Saturday, July 13, 2024
Advertisement

नीट पेपर लीक मामले में 11 परीक्षार्थियों से 18-19 जून को पूछताछ, पुलिस को 7 परीक्षा माफियाओं की तलाश

पेपर लीक मामले मे जेल भेजे गए कुल जालसाजो में दानापुर नगर परिषद का निलंबित जेई सिकंदर यादवेंदु, गया का नीतीश कुमार और मुंगेर का अमित आनंद प्रमुख है। तीनों का संबंध परीक्षा माफिया संजीव मुखिया से है।

Reported By : Nitish Chandra Edited By : Shakti Singh Updated on: June 17, 2024 12:58 IST
Neet Paper Leake- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO नीट पेपर लीक

नीट पेपर लीक मामले में 11 परीक्षार्थियों से 18 और 19 जून को पूछताछ होगी। इन सभी परीक्षार्थियों  18 और 19 जून को पूछताछ के लिए EOU दफ्तर बुलाया गया है। परीक्षार्थी बिहार के अलावा यूपी और महाराष्ट्र के हैं। इस सभी परीक्षार्थियों के रोल कोड मिलने के बाद उनके बारे मे NTA से जानकारी मांगी गई थी। पेपर लीक मामले मे जेल भेजे गए कुल जालसाजो में दानापुर नगर परिषद का निलंबित जेई सिकंदर यादवेंदु, गया का नीतीश कुमार और मुंगेर का अमित आनंद प्रमुख है। तीनों का संबंध परीक्षा माफिया संजीव मुखिया से है। पुलिस को अभी संजीव मुखिया की तलाश है।

कौन है सिकंदर 

सिकंदर 2012 मे जूनियर इंजीनियर बना था। सिकंदर 2016 मे रोहतास नगर परिषद में हुए 2।92 करोड़ के एलईडी घोटाले का मुख्य आरोपी और चार्जशीटेड है। उस समय रोहतास के SP मानवजीत सिंह ढिल्लों थे,जो अभी EOU मे  DIG हैं। इससे पहले सिकंदर रांची में ठेकेदार था। 2016 में वह रोहतास में सिचाई विभाग में जेई था और वहां की नगर परिषद के जेई के अतिरिक्त प्रभार में था। इसी दौरान इसने घोटाला किया और जेल गया। अभी सिकंदर पटना के दानापुर नगर परिषद मे JE है। 

बेटी-दामाद हैं डॉक्टर

सिकंदर मूल रूप से समस्तीपुर का रहने वाला है। पटना में रूपसपुर इलाके में रहता है। ईओयू उसके पुराने रिकार्ड को खंगाल रही है। वह अबतक जहां-जहां पदस्थापित रहा है उन विभागों से उसके बारे बारे में जानकारी मांगी जा रही है। साथ ही साथ समस्तीपुर और पटना पुलिस से भी उसके बारे में जानकारी मांगी गई है। सिकंदर के परिवार मे पत्नी के अलावा एक बेटा और एक बेटी है, बेटा बीएससी एग्रीकल्चर कर रहा है जबकि बेटी डॉ है। सिकंदर ने बेटी की शादी भी एक डॉ से की है जो  यूपी के एक मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस करने के बाद फिलहाल पीजी कर रहा है। पुलिस सिकंदर के रिश्तेदारों और दोस्तों का प्रोफाइल भी खंगाल रही है।

कौन है नीतीश कुमार 

नीतीश कुमार गया का रहने वाला है और पटना में गोपालपुर इलाके में रहता है। नीतीश और उसकी पत्नी 15 मार्च को बिहार मे हुई शिक्षक भर्ती परीक्षा के परीक्षार्थी थे। दोनों को ईओयू की टीम ने 15 मार्च की सुबह झारखण्ड के हजारीबाग स्थित कोहिनूर बैंक्वेट हॉल से गिरफ्तार किया था। नीतीश की शादी नालंदा में हुई है। इसी कारण वह नालंदा के संजीव मुखिया के संपर्क में आया। जेल से छूटने के बाद वह संजीव मुखिया के गिरोह में शामिल हो गया और नीट यूजी प्रश्नपत्र लीक कराते हुए गिरफ्तार हुआ।

कौन है अमित आनंद 

अमित आनंद मूलरूप से मुंगेर जिले के कोतवाली थानांतर्गत मंगल बाजार गुमटी नंबर दो इलाके का निवासी है। वह पटना के शास्त्री नगर थाना क्षेत्र की एजी कालोनी में स्थित कुलदीप बीमा आदित्य अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 202 में किराये पर रह रहा था। 

सात परीक्षा माफियाओं की तलाश

नीट पेपर लीक मामले में कार्रवाई के दौरान पुलिस ने जले हुए प्रश्नपत्र बरामद किए थे। इससे 74 प्रश्नों की सूची बनाई गयी जिसमें एक बुकलेट नंबर 6136488 भी बरामद हुआ है। इन प्रश्नों का मिलान कराने के लिए ईओयू को नीट यूजी के मूल प्रश्नपत्र की आवश्यकता है। इंओयू ने इसको लेकर 21 मई को ही एनटीए के डीजी को पत्र लिखा था। लेकिन अभी तक एनटीए ने प्रश्नपत्र नहीं उपलब्ध कराया है। अब ईओयू रिमाइंडर भेजेगी। 5 मई को नीट यूजी की परीक्षा के दौरान पुलिस ने 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया था, जिनमें छह परीक्षा माफिया है। अभी सात परीक्षा माफियाओं- गिरोह के सरगना संजीव मुखिया, हिलसा के रॉकी उर्फ राकेश रंजन, हिलसा के पिंटू, करायपरसुराय के चिंटू उर्फ बलदेव, दीदारगंज के आशुतोष, नीतीश यादव और नीतीश पटेल की तलाश है।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement