Sunday, July 14, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. FD पर 9.5% और सेविंग अकाउंट पर 7.75% तक ब्याज चाहिए तो इस बैकों का रुख करें

FD पर 9.5% और सेविंग अकाउंट पर 7.75% तक ब्याज चाहिए तो इस बैकों का रुख करें

फिक्स्ड डिपॉजिट पर, यूनिटी बैंक वरिष्ठ नागरिकों को 9.5% प्रति वर्ष और सामान्य निवेशकों को 1001 दिनों की अवधि के लिए 9% प्रति वर्ष की ब्याज दर प्रदान कर रहा है।

Edited By: Alok Kumar @alocksone
Updated on: June 24, 2024 17:58 IST
FD- India TV Paisa
Photo:FILE फिक्स्ड डिपॉजिट

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा रेपो रेट में कटौती नहीं करने से अभी फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) पर अधिकांश बैंक सर्वश्रेष्ठ ब्याज दे रहे हैं। इसके चलते निवेशकों का रुझान बढ़ा है। ऐसे में अगर आप एफडी कराने की योजना बना रहे हैं तो हम आपको उन बैंकों की सूची दे रहे हैं, जहां एफडी पर आपको 9.5% तक ब्याज मिल सकता है। वहीं, अगर सेविंग अकाउंट खोलेंगे तो जमा रकम पर 7.75% तक ब्याज मिल सकता है। 

यूनिटी स्मॉल फाइनेंस बैंक 

यूनिटी स्मॉल फाइनेंस बैंक में अगर आपका सेविंग अकाउंट है और उसमें 1 लाख रुपये तक जमा है तो 6% की दर से ब्याज मिल जाएगा। 1 लाख रुपये से अधिक और 5 लाख रुपये तक की जमाराशियों पर 7.25% और 5 लाख रुपये से अधिक और 50 लाख रुपये तक की जमाराशियों पर 7.5% की दर से ब्याज बैंक देता है। वहीं, 50 लाख रुपये से अधिक की राशि पर 7.75% की दर से ब्याज प्रदान करता है।

बैंक की एफडी दरें

फिक्स्ड डिपॉजिट पर, यूनिटी बैंक वरिष्ठ नागरिकों को 9.5% प्रति वर्ष और सामान्य निवेशकों को 1001 दिनों की अवधि के लिए 9% प्रति वर्ष की ब्याज दर प्रदान कर रहा है। यह बैंक के लिए उच्चतम ब्याज दर स्लैब है। सबसे कम दर स्लैब (165 दिन से 6 महीने) में, यूनिटी बैंक सामान्य ग्राहकों को 6.25% और वरिष्ठ नागरिकों को 6.75% ब्याज दर प्रदान करता है। 201 दिनों से 364 दिनों की अवधि वाली FD पर, बैंक सामान्य ग्राहकों को 8.5% और वरिष्ठ नागरिकों को 9% ब्याज दर प्रदान करता है। 501 दिनों की अवधि की FD बुक करने वाले सामान्य ग्राहकों को प्रति वर्ष 8.75% और वरिष्ठ नागरिकों को 9.25% की दर से रिटर्न मिलेगा।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement