Saturday, July 13, 2024
Advertisement

Earthquake News: ताइवान में आया जोरदार भूकंप, दो मंजिला इमारत धराशायी, सुनामी का अलर्ट जारी

Earthquake News: ताइवान के युजिंग शहर में 7.2 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भारतीय समयानुसार दोपहर करीब 12.14 बजे इतनी तेज तीव्रता वाले भूकंप के झटके लगे हैं।

Written By: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Updated on: September 18, 2022 14:54 IST
Earthquake- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Earthquake

Highlights

  • ताइवान में भूकंप के बाद सुनामी का अलर्ट जारी
  • जापान के सबसे पश्चिमी द्वीप योनागुनी के पास पहुंचीं हैं
  • ये लहरें शाम तक ताइवान के पास पहुंच सकती हैं

Earthquake News: ताइवान में रविवार रात को जोरदार भूकंप आया है। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 7.2 आंकी गई है। यह तीव्रता खतरनाक स्तर की मानी जाती है। ताइवान के युजिंग शहर में 7.2 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भारतीय समयानुसार दोपहर करीब 12.14 बजे इतनी तेज तीव्रता वाले भूकंप के झटके लगे हैं। यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने कहा कि ताइवान के युजिंग से 85 किमी पूर्व में एक जोरदार भूकंप आया। ताइवानी मीडिया के मुताबिक भूकंप के केंद्र के पास एक दो मंजिला इमारत ढह गई। वहीं राजधानी ताइपे में द्वीप के उत्तरी एरिया में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। इससे एक दिन पहले भी 6.5 तीव्रता का भूकंप यहां आया था। 

ताइवान में भूकंप के बाद सुनामी का अलर्ट जारी

ताइवान में भूकंप के बाद, जापान की मौसम विज्ञान एजेंसी ने सुनामी का अलर्ट जारी किया है। मौसम विशेषज्ञों ने लोगों को समुद्र तट से दूर रहने की चेतावनी दी है। हालांकि इस द्वीप के बारे में एक बात यह है कि जब तक 7.0 तीव्रता का भूकंप न आए, तब तक यह द्वीप सुनामी की चेतावनी जारी नहीं करता। 

एजेंसी ने कहा कि सबसे शुरुआती लहरें जापान के सबसे पश्चिमी द्वीप योनागुनी के पास पहुंचीं हैं,  जो कि ताइतुंग से लगभग 250 किलोमीटर  उत्तर-पूर्व में है। ये लहरें शाम 4.10 बजे ताइवान के पास पहुंच सकती हैं।

पापुआ न्यू गिनी में भी आया था 7.6 तीव्रता का भूकंप

इसी तरह पिछले रविवार को प्रशांत महासागर में पापुआ न्यू गिनी के दूरवर्ती इलाके में  7.6 तीव्रता के भूकंप का झटका महसूस किया गया था। इससे इसमें कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई थी। प्राधिकारियों ने बताया कि कुछ लोग घायल भी हुए हैं और इमारतों को भी नुकसान पहुंचा है। भूकंप के झटके पूरे देश में महसूस किए गए। मोरोबे प्रांतीय आपदा के निदेशक चार्ली मसांगे ने बताया कि सोने की खदान वाले वाऊ शहर में एक भूस्खलन में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि मलबा गिरने से अन्य लोग घायल हो गए। उन्होंने बताया कि भूकंप से कुछ स्वास्थ्य केंद्रों, मकानों, ग्रामीण सड़कों तथा राजमार्गों को भी नुकसान पहुंचा है। मसांगे ने कहा कि क्षेत्र में नुकसान तथा हताहतों का पता लगाने में कुछ वक्त लग सकता है। 

इसी महीने चीन में भी आया था खतरनाक भूकंप

इससे पहले सितंबर माह में ही चीन के सिचुआन प्रांत में 6.8 तीव्रता का भूकंप आया था, जिसमें प्रांत के गांजे तिब्बती स्वायत्त क्षेत्र में बहुत अधिक नुकसान हुआ था। सरकारी प्रसारक ‘सीसीटीवी’ के अनुसार, बचाव दल ने कहा कि रविवार शाम तक 25 और लोगों के लापता होने की सूचना मिली। भारी बारिश और भूस्खलन के जोखिम के कारण बचे लोगों की तलाश और शवों की बरामदगी जटिल हो गई। भारी बारिश और भूस्खलन के कारण कुछ निवासियों को अस्थायी आश्रयों में शरण लेना पड़ा। भूकंप ने प्रांत की राजधानी चेंगदू को भी प्रभावित किया, जहां के निवासी सख्त शून्य-कोविड नीति के दायरे में हैं। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement