Friday, July 19, 2024
Advertisement

रूस ने यूक्रेन के आर्मी कमांड सेंटर पर गिराया मिसाइल बम, पूर्वी यूक्रेन के शहरों में हवाई हमले के सायरन से हाहाकार

बखमुत में रूसी सेना के हावी होने के बाद यूक्रेन में खलबली मच गई है। बखमुत से यूक्रेनी सेना को मैदान छोड़कर भागना पड़ रहा है। यूक्रेनी सेना अपने बखमुत निवासियों को बाहर निकाल पाने में नाकाम हो रही है। इसके बाद अब रूस ने पूर्वी यूक्रेन पर मिसाइल और ड्रोन से दर्जनों बड़े हमले करने जा रहा है।

Written By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: March 06, 2023 14:57 IST
प्रतीकात्मक फोटो- India TV Hindi
Image Source : AP प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्लीः बखमुत में रूसी सेना के हावी होने के बाद यूक्रेन में खलबली मच गई है। बखमुत से यूक्रेनी सेना को मैदान छोड़कर भागना पड़ रहा है। यूक्रेनी सेना अपने बखमुत निवासियों को बाहर निकाल पाने में नाकाम हो रही है। इधर रूस ने यूक्रेन के आर्मी कमांड सेंटर पर हमला कर दिया है। इसके बाद अब रूस ने पूर्वी यूक्रेन पर मिसाइल और ड्रोन से दर्जनों बड़े हमले करने जा रहा है। इसे देखते हुए जेलेंस्की के खेमे में खलबली मच गई है। पूर्वी यूक्रेन के सभी शहरों में जोर-जोर से हवाई हमले के सायरने बजाए जा रहे हैं। लोगों को घरों से बाहर नहीं निकले की सलाह दी जा रही है। सर पर मौत का सायरन सुनकर लोगों की सांसें अटकी हुई हैं। रूस की ओर से दावा किया जा रहा है कि उसने यूक्रेन के जापोरिज्जिया आर्मी कमांड सेंटर पर बम गिरा दिया है। कई अन्य शहरों में भी मिसाइल और बमों से हमले शुरू हो गए हैं।

जेलेंस्की प्रशासन ने रूस द्वारा पूर्वी यूक्रेन में बड़े हवाई हमले की चेतावनी दी है। पिछले कुछ मिनटों में पूर्वी यूक्रेन के छह क्षेत्रों में हवाई हमले की चेतावनी जारी की गई है। इस हवाई हमले के अलर्ट मैप में खारकीव, डोनेत्स्क, निप्रॉपेट्रोस, ज़ापोरिज्जिया, किरोवोह्रद और पोल्टावा जैसे यूक्रेन के अहम इलाके शामिल हैं। इन क्षेत्रों में रूस ने हवाई हमले करने शुरू भी कर दिए हैं। खास बात यह है कि यह सभी क्षेत्र यूक्रेन की राजधानी कीव की सीमाएं हैं। इसलिए राष्ट्रपति जेलेंस्की घबराने लगे हैं। अगर रूस ने इन इलाकों पर कब्जा जमा लिया। फिर कीव पहुंचने में रूसी सेना को ज्यादा देर नहीं लगेगी। रूसी सेना गत 24 फरवरी को युद्ध के 1 वर्ष पूरे होने के बाद अधिक जोश में आ गई है। अब वह युद्ध को और लंबा नहीं खींचना चाहती। इसलिए पुतिन ने यूक्रेन में पूरी ताकत झोंक दी है।

यूक्रेन से कटा बखमुत

इधर रूसी सेना बखमुत में लगभग नियंत्रण पाने की स्थिति में पहुंच गई है। रूस की वैगनर सेना ने बखमुत से यूक्रेनी सेना का संपर्क काट दिया है। इससे यूक्रेन के सामने भारी मुश्किल पैदा हो गई है। निर्णायक बढ़त को कब्जे में तब्दील करने के लिए रूस ने यूक्रेन के उक्त छह क्षेत्रों पर ताबड़तोड़ हवाई हमले करके पैदल सेना की राह आसान करना चाहता है। ताकि उन क्षेत्रों में भी कब्जा जमाया जा सके। इसलिए यूक्रेन के पूर्वी शहरों में लगातार हवाई हमले के सायरन बजाए जा रहे हैं। हालांकि इन क्षेत्रों में हवाई हमले की चेतावनी असामान्य नहीं है। शहर के डिप्टी मेयर ऑलेक्ज़ेंडर मार्चेंको ने कहा कि दुश्मन बार-बार तोपखाने और मोर्टार से गोलाबारी कर रहा है और हवाई हमले कर रहा है।

खारकीव में रूस ने गिराया बम
रूस ने पूर्वी यूक्रेन में जबरदस्त हवाई हमले शुरू कर दिए हैं। जानकारी के अनुसार खारकीव के ओब्लास्ट के कुप्यांस्क में एक रिहायशी इमारत में गोलाबारी के बाद 65 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई है। क्षेत्रीय गवर्नर ओलेग सिनेगुबोव की टिप्पणियों के बाद आज सुबह हॉरमडस्के समाचार एजेंसी ने गोलाबारी की सूचना दी है। हालांकि रिपोर्ट को अभी सत्यापित नहीं किया जा सका है। लुहांस्क में पिछले साल अप्रैल से लगातार हवाई हमले की चेतावनी जारी है।

यूक्रेन के कमांड सेंटर पर रूस ने किया हमला
रूसी सेना ने ज़ापोरिज़्ज़िया में यूक्रेनी कमांड सेंटर पर हमला किया है। रूसी रक्षा मंत्रालय ने रविवार को दक्षिण-पूर्वी ज़ापोरिज़्ज़िया क्षेत्र में अज़ोव रेजिमेंट द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले एक कमांड सेंटर पर हमला करने का दावा किया। इसने अपने दैनिक अपडेट में दावा किया कि इसे "विशेष सैन्य अभियान" कहा जाता है। रॉयटर्स के मुताबिक अभी यह रिपोर्ट सत्यापित नहीं हो पाई है। रूस पूर्वी यूक्रेन के विभिन्न इलाकों पर भीषण बमबारी कर रहा है।

यह भी पढ़ें

बखमुत में शुरू हुई रूस-यूक्रेन में आमने-सामने की जंग, यूक्रेनी सैनिकों के सारे रास्ते बंद; वैगनर चीफ ने दी ये चेतावनी

अमेरिका के पूर्व रक्षा सचिव का दावा, यूक्रेन पर सफल हुआ रूस तो चीन कर सकता है भारत पर हमला

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement