'लालू-नीतीश को सोनिया गांधी ने 20 मिनट में निपटाया', विपक्षी मुलाकात पर सुशील कुमार मोदी का तंज

बैठक के बाद भाजपा नेताओं ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अपनी विश्वसनीयता खो दी है। सुशील कुमार मोदी ने तो यहां तक कह दिया कि सोनिया गांधी ने लालू-नीतीश को उनकी औकात बता दी और उन्हें मात्र 20 मिनट में निपटा दिया।

Sushmit Sinha Edited By: Sushmit Sinha @sushmitsinha_
Updated on: September 27, 2022 6:32 IST
Sushil Kumar Modi- India TV Hindi
Image Source : PTI Sushil Kumar Modi

Highlights

  • 'लालू-नीतीश को सोनिया गांधी ने 20 मिनट में निपटाया'
  • विपक्षी मुलाकात पर सुशील कुमार मोदी का तंज
  • गिरिराज सिंह ने भी साधा निशाना

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार शाम नई दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर लौटे। मीडियाकर्मियों को उम्मीद थी कि वह बैठक के ब्योरे का खुलासा करेंगे, लेकिन वह हवाई अड्डे से सीधे अपने सरकारी आवास पर चले गए। सूत्रों ने कहा है कि नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी के साथ 20 मिनट की संक्षिप्त अवधि के लिए औपचारिक मुलाकात की थी और यह केवल राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के कारण ही संभव हो सका था, जिन्होंने उन्हें फोन किया और बैठक के लिए समय लिया। वह भी बैठक में मौजूद थे। बैठक के बाद भाजपा नेताओं ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अपनी विश्वसनीयता खो दी है। सुशील कुमार मोदी ने तो यहां तक कह दिया कि सोनिया गांधी ने लालू-नीतीश को उनकी औकात बता दी और उन्हें मात्र 20 मिनट में निपटा दिया।

अमित मालवीय ने कसा तंज

नीतीश-लालू यादव की सोनिया गांधी से मुलाकात को लेकर ट्वीट करते हुए अमित मालवीय ने कहा, "नीतीश कुमार और लालू प्रसाद, सोनिया गांधी से मिलते हैं और उस चर्चित मुलाकात की कोई तस्वीर नहीं है। कांग्रेस अध्यक्षा ने बिहार का इतना अपमान किया और प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नीतीश कुमार को तिरस्कृत करके भेज दिया। बाहर निकलके लालू और नीतीश एक-दूसरे का हाथ पकड़के फोटो खिंचवाए।"

गिरिराज सिंह ने भी साधा निशाना

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने इस मुलाकात पर कहा, "आम तौर पर, इस तरह की हर बैठक के बाद, तस्वीर सार्वजनिक प्लेटफार्मों पर नेताओं द्वारा साझा की जाती हैं। नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव की सोनिया गांधी के साथ बैठक ने यह धारणा दी कि वह उनसे ठीक से नहीं मिलीं।" पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने दावा किया कि विपक्षी दलों को एकजुट करने के नीतीश कुमार के मिशन को बड़ा झटका लगा है क्योंकि विपक्षी नेता हरियाणा में इनेलो की रैली में एकत्र नहीं हुए थे।

हालांकि,नीतीश कुमार पहले ही कह चुके हैं कि सोनिया गांधी के साथ उनकी मुलाकात सकारात्मक रही, लेकिन चूंकि उनकी पार्टी में आंतरिक चुनाव चल रहे हैं, इसलिए वह व्यस्त हैं। उन्होंने आगे कहा कि वह बिना तथ्यों को जाने किसी निष्कर्ष पर पहुंचने वाले भाजपा नेताओं पर ध्यान नहीं देते और आम तौर पर लोगों को गुमराह करते हैं।

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें बिहार सेक्‍शन