जिस लावरिस बैग की वजह से IGI एयरपोर्ट पर मच गई थी अफरातफरी, उसमें निकले काजू और चॉकलेट

सूत्रों की मानें तो शाहिद हुसैन हरियाणा के बल्लभगढ़ का रहने वाला है। उसके बैग में काजू, मिठाई, कपड़े, चॉकलेट थीं। पुलिस ने इसे वेरिफाई कर दिया है और क्लीन चिट दे दी है। 

Abhay Parashar Reported by: Abhay Parashar @abhayparashar
Published on: November 01, 2019 22:56 IST
IGI Airport- India TV Hindi
Image Source : PTI A bag with suspected explosives was found at Delhi's Terminal 3 airport in the early hours of Friday, leading to restriction on passengers' movement for few hours.

नई दिल्ली। दिल्ली के IGI हवाई अड्डे पर गुरुवार देर रात एक लावारिस बैग मिलने से अफरातफरी मच गई लेकिन बाद में अधिकारियों ने कहा कि एक यात्री ने कहा है कि वह उसका बैग है जो वह टर्मिनल तीन के बाहर भूल गया था। सूत्रों ने बताया कि शाहिद हुसैन नाम के युवक ने हवाई अड्डा प्राधिकारियों से सम्पर्क किया। उसने बैग इससे लगभग 16 घंटे पहले कथित रूप से भूलवश छोड़ दिया था। उसने कहा कि वह दोस्तों के साथ विमान से मुम्बई से यहां पहुंचा और बैग इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर गुरुवार देर रात टर्मिनल-3 के बाहर भूल गया।

बैग में निकले काजू, मिठाई और चॉकलेट

सूत्रों की मानें तो शाहिद हुसैन हरियाणा के बल्लभगढ़ का रहने वाला है। उसके बैग में काजू, मिठाई, कपड़े, चॉकलेट थीं। पुलिस ने इसे वेरिफाई कर दिया है और क्लीन चिट दे दी है। पुलिस ने इसकी जानकारी सीआईएसएफ को भी दे दी है। बैग के अंदर पहले लैपटॉप होने की भी बात की जा रही थी, लेकिन  बैग में लैपटॉप का सिर्फ चार्जर था, जिसे तार कहा जा रहा था।

CISF कर्मी ने रात 1 बजे देखा था बैग

शुरूआत में बैग में RDX होने की आशंका उत्पन्न होने पर संवेदनशील हवाई अड्डे पर सुरक्षा व्यवस्था में खलबली मच गई। इस संबंध में संदेह और बढ़ गया क्योंकि आगमन टर्मिनल के बाहर जिस स्थान पर बैग रखा हुआ था वहां CCTV कवरेज कम था। काले रंग के बैग को सबसे पहले CISF के एक कर्मी ने गुरुवार देर रात करीब एक बजे देखा और उसे सीआईएसएफ, राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के बम विशेषज्ञों और फारेंसिक कर्मियों ने एकांत स्थान पर निगरानी में रखा।

पहले जताई गई थी बैग में RDX होने की आशंका

सूत्रों ने पहले कहा था कि प्राथमिक जांच से प्रतीत होता है कि बैग में ‘आरडीएक्स’ हो सकता है। इसकी जांच विस्फोटक डिटेक्टर से की गई। बाद में एक कुत्ते की मदद से भी जांच की गई। सीआईएसएफ के विशेष महानिदेशक (हवाईअड्डा क्षेत्र) एम.ए गणपति ने हालांकि कहा कि यह कहना जल्दबाजी होगी कि विस्फोटक ‘आरडीएक्स’ है। गणपति ने मीडिया से कहा, ‘‘यह कुछ भी हो सकता है और शुरुआती कयास गलत हो सकते हैं। अभी इसे ‘आरडीएक्स’ बताना बेहद जल्दबाजी होगी। हमें अंतिम आकलन रिपोर्ट का इंतजार करना चाहिए।’’

यात्रियों में मच गई थी अफरातफरी

दिल्ली पुलिस ने बताया कि गुरुवार देर रात करीब एक बजे एक संदिग्ध बैग के बारे में जानकारी मिली थी। इसके बाद टर्मिनल-3 के गेट नंबर दो (आगमन) के पास से एक बैग मिला। इस बीच, एयरलाइनों से जुड़े सूत्रों ने बताया कि बैग मिलने के बाद कुछ देर के लिए यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई क्योंकि थोड़े समय के लिए आगमन टर्मिनल से लोगों को बाहर जाने से रोक दिया गया था।

एयरपोर्ट की जांच के बाद बहाल हुई आवाजाही

अधिकारियों ने बताया कि सीआईएसएफ और दिल्ली पुलिस ने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की पूरी तरह से जांच की, जिसके बाद सुबह करीब चार बजे यात्रियों की आवाजाही बहाल की गई। उन्होंने बताया कि सीआईएसएफ और पुलिस ने मानक प्रक्रिया के तहत वहां सुरक्षा बढ़ा दी है। दिल्ली हवाई अड्डे पर तीन टर्मिनल हैं और टर्मिनल तीन से घरेलू के साथ ही अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी संचालित होती हैं।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन