ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. बसंत पंचमी पर कुंभ 2019 का आखिरी ‘शाही स्नान’, करोड़ों श्रद्धालुओं ने संगम पर लगाई पवित्र डुबकी

बसंत पंचमी पर कुंभ 2019 का आखिरी ‘शाही स्नान’, करोड़ों श्रद्धालुओं ने संगम पर लगाई पवित्र डुबकी

Read In English

संगम शहर में चल रहे आस्था के पर्व कुंभ में कल यानी रविवार को बसंत पंचमी के दिन तीसरे ‘शाही स्नान’ में कम से कम दो करोड़ से अधिक लोगों के आने की संभावना है।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 10, 2019 13:31 IST
Kumbh Mela- India TV Hindi
Image Source : PTI Kumbh Mela

इलाहाबाद: संगम शहर में चल रहे आस्था के पर्व कुंभ में रविवार को बसंत पंचमी के दिन तीसरे ‘शाही स्नान’ में श्रद्धालुओं का डुबकी लगाने का सिलसिला जारी है। आज कम से कम दो करोड़ से अधिक लोगों के आने की संभावना है। कुंभ मेला अधिकारी विजय किरन आनंद ने कहा कि रविवार को बसंत पंचमी के अवसर पर समाज के हर वर्ग से दो करोड़ से ज्यादा लोगों के डुबकी लगाने की संभावना है। उत्तर प्रदेश पुलिस तथा केन्द्रीय अर्ध सैनिक बल सहित सुरक्षा कर्मियों को विभिन्न क्रॉसिंग्स और शहर के अनेक हिस्सों में तैनात किया गया है।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (एबीएपी) के अध्यक्ष नरेन्द्र गिरि ने कहा, ‘‘कुंभ मेले में तीन शाही स्नान और तीन पर्व स्नान होते हैं।’’कुंभ मेला 15 जनवरी को मकर संक्राति के दिन से शुरु हुआ था और वही पहला शाही स्नान था दूसरा शाही स्नान चार फरवरी को मौनी अमावस्या के दिन था। इलाहाबाद की महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी ने पीटीआई-भाषा से कहा,‘‘बसंत पंचमी कुंभ का तीसरा और अंतिम शाही स्नान है। माना जाता है कि इस दिन तीन बार डुबकी लगा कर श्रद्धालुओं को गंगा, यमुना और अदृश्य सरस्वती का आशिर्वाद मिलता है।इस लिए श्रद्धालुओं के लिए इसका काफी महत्व है।’’

उत्तर प्रदेश पुलिस ने पूरे पर्व को सुगमता से निपटाने के लिए सारी तैयारी की है। राज्य के पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह ने पीटीआई-भाषा से पहले बातचीत में कहा था कि पूरे क्षेत्र को नौ जोन और 20 सेक्टरों में बांटा गया है। इनकी सुरक्षा में 20,000 पुलिसकर्मियों, 6000 होमगार्ड तैनात किए गए हैं। इसके अलावा 40 पुलिस थाने, 58 चौकियां, 40 दमकल केंद्र बनाए गए हैं। केन्द्रीय बलों की 80 कंपनियां तथा पीएसी की 20 कंपनियां भी तैनात हैं।

uttar-pradesh-elections-2022
elections-2022