1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. रोहिंग्या को उनके मुल्क भेजा जाएगा, शरणार्थियों पर भारत को प्रवचन नहीं दिया जाए: रिजिजू

रोहिंग्या को उनके मुल्क भेजा जाएगा, शरणार्थियों पर भारत को प्रवचन नहीं दिया जाए: रिजिजू

केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने आज कहा कि रोहिंग्या अवैध आप्रवासी हैं और उनको उनके मुल्क भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि किसी को भी इस मुद्दे पर भारत को प्रवचन नहीं देना चाहिए क्योंकि देश ने दुनिया में अधिकतम संख्या में शरणार्थियों को अपने यहां शरण दी है।

India TV News Desk Edited by: India TV News Desk
Updated on: September 06, 2017 6:54 IST
kiren rijiju- India TV Hindi
kiren rijiju

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने आज कहा कि रोहिंग्या अवैध आप्रवासी हैं और उनको उनके मुल्क भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि किसी को भी इस मुद्दे पर भारत को प्रवचन नहीं देना चाहिए क्योंकि देश ने दुनिया में अधिकतम संख्या में शरणार्थियों को अपने यहां शरण दी है।

रिजिजू ने यहां संवाददाताओं से कहा, मैं अंतरराष्ट्रीय संगठनों से कहना चाहता हूं कि चाहे रोहिंग्या संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग के तहत पंजीकृत हैं या नहीं। वे भारत में अवैध आप्रवासी हैं। गृह राज्य मंत्री ने कहा कि चूंकि वे वैध आप्रवासी नहीं हैं इसलिए उन्हें उनके मुल्क भेजा जाना है।

उन्होंने कहा, कानून के अनुसार उन्हें देश से निकाला जाना है क्योंकि वे अवैध आप्रवासी हैं। हम महान लोकतांत्रिक परंपराओं वाले देश में हैं। भारत ने दुनिया में अधिकतम संख्या में शरणार्थियों को जगह दी है, इसलिए किसी को भी शरणार्थियों से कैसे बर्ताव किया जाए इसपर भारत को नसीहत नहीं देनी चाहिये।

इस मुद्दे पर सरकार के रुख की कथित आलोचना पर कड़ा रुख अपनाते हुए रिजिजू ने कहा, हम कानूनी रास्ता अपना रहे हैं, तब क्यों हमपर अमानवीय होने का आरोप लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र ने सभी राज्य सरकारों को उन्हें देश से निकालने की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया है।

इस बीच, दो रोहिंग्या आप्रवासियों ने उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाकर उसे केंद्र सरकार को यह निर्देश देने का अनुरोध किया है कि वह उन्हें म्यांमार नहीं भेजे। म्यांमार के पश्चिमी राखाइन प्रांत में हिंसा के बाद रोहिंग्या मुसलमान भारत भाग गए।