ये राजा 15 रानियों और 30 बच्चों के साथ आया भारत

नई दिल्ली: भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन में अफ्रीकी देश स्वाजीलैंड के राजा मस्वाती-3 अकेले नहीं आए, बल्कि उनकी 15 रानियां, 30 बच्चे और 100 नौकर भी उनके साथ आए हैं। इतने बड़े काफिले के साथ मस्वाती

India TV News Desk India TV News Desk
Updated on: October 30, 2015 8:20 IST
ये राजा 15 रानियों और 30...- India TV Hindi
ये राजा 15 रानियों और 30 बच्चों के साथ आया भारत

नई दिल्ली: भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन में अफ्रीकी देश स्वाजीलैंड के राजा मस्वाती-3 अकेले नहीं आए, बल्कि उनकी 15 रानियां, 30 बच्चे और 100 नौकर भी उनके साथ आए हैं। इतने बड़े काफिले के साथ मस्वाती दिल्ली के एक होटल में ठहरे हैं।

उनके लिए एक फाइव स्टार होटल में 200 कमरे बुक कराए गए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिस कमरे में मस्वाती ठहरे हुए हैं, उसका किराया करीब डेढ़ लाख रुपये प्रतिदिन है। कहा जा रहा है कि स्वाजीलैंड की ओर से इस होटल के कमरे छह दिन पहले ही बुक करा लिए गए थे। ज्यादातर कमरों का किराया सात से 15 हजार रुपये रोज का है।

मस्वाती स्वाजीलैंड के मौजूदा राजा हैं। मस्वाती के पिता की 125 रानियां थीं। साल 2009 में फोर्ब्स पत्रिका ने एक लिस्ट प्रकाशित की थी जिसके मुताबिक वह दुनिया के सबसे धनी राजाओं में गिने जाते हैं।

मस्वाती तृतीय को एक रंगीन मिजाज के रूप में जाना जाता है। उन्होंने परिवार बढ़ाने की अपने पिता की परंपरा को आलोचनाओं की परवाह किए बिना कायम रखा है। उनकी 15 रानियों में केवल 2 को ही रॉयल का दर्जा प्राप्त है।

मस्वाती तृतीय दुनिया के अमीर राजाओं में शुमार हैं। वर्ष 2009 में फोर्ब्स द्वारा प्रकाशित सूची में 200 मिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ उनका 15वां स्थान था। उनके पास पांच लाख डॉलर की मैबेच कार सहित 62 लक्जरी गाडियां हैं, जिनका फोटो लेने पर प्रतिबंध है। 47 वर्षीय राजा ने अपनी रानियों के लिए 13 आलिशान महल बनवा रखे हैं। उन्होंने 2013 में 18 साल की लड़की के साथ 15वीं शादी रचाई थी।

स्वाजीलैंड एक गरीब देश है, जिसकी आबादी 1 करोड़ 20 लाख है। 69 फीसदी लोग बीपीएल के अंतर्गत आते हैं। करीब 63 फीसदी से अधिक आबादी हर रोज सिर्फ 80 रुपए में अपना खर्चा चलाती है। इस देश में बेरोजगारी दर 40 फीसदी है। हैरान करने वाली बात ये है कि स्वाजीलैंड में एचआईवी पॉजीटिव भी करीब 40 फीसदी हैं।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन