इन 3 बीमारियों वाले लोगों को जरूर देना चाहिए रोज सूर्य को जल, जानें इसके नियम और फायदे

सूर्य को जल देने के फायदे: शास्त्रों के अनुसार जिन लोगों का सूर्य नीच होता है उन्हें आंखों से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में सूर्य को जल देना फायदेमंद हो सकता है।

Pallavi Kumari Written By: Pallavi Kumari
Published on: November 23, 2022 7:47 IST
Water_offering_to_sun- India TV Hindi
Image Source : PINTEREST Water_offering_to_sun

रोज सूर्य को जल देने के फायदे: क्या आपको बार-बार एंग्जायटी होती है या फिर आप हमेशा घबराए रहते हैं? ये दोनों ही चीजें इस बात का संकेत हो सकती हैं कि आपकी कुंडली में सूर्य ग्रह प्रभावित है या नीच का है। दरअसल, सूर्य ग्रह एनर्जी और आत्म विश्वास से भरा हुआ ग्रह है। जिन लोगों का सूर्य मजबूत होता है उन्हें कोई भी फैसला लेने में देरी नहीं लगती। ऐसे लोग साहसी होते हैं और अक्सर सामने से चीजों का सामना करते हैं। लेकिन, जिनमें यह नीच होता है उन लोगों में ये कॉन्फिडेंस की कमी का कारण बनता है। ऐसे लोग ओवरथिंकिंग करते हैं और कई बीमारी के शिकार हो सकते हैं। ऐसी स्थिति रोजाना बस सूर्य को जल देने (surya ko jal dene ke fayde) से आप इन चीजों से धीमे-धीमे बाहर आ सकते हैं। साथ ही ये आपको यह कई बीमारियों से बचाव में भी मदद करेगा। 

इन 4 बीमारियों वाले लोगों को जरूर देना चाहिए रोज सूर्य को जल

1. एंग्जायटी अटैक वाले लोगों को

कुछ लोग होते हैं, जिन्हें हर छोटी बात पर एंग्जायटी होती है। ऐसे लोगों को भीड़ से भी  एंग्जायटी अटैक आने लगता है। ऐसी स्थिति वाले लोगों के लिए रोज सूर्य को जल देना फायदेमंद (Benefits Of Offering Water to the Sun) हो सकता है। ये उन्हें पॉजिटिव एनर्जी के साथ मानसिक मजबूती देता है, जिससे एंग्जायटी की भावना कम होती है। 

Vastu Tips: इस वास्तु टेक्निक से बनाएं आग्नेय कोण में सीढ़ियां, सफलता चूमेगी कदम

2. डिप्रेशन के मरीज को

डिप्रेशन के मरीज को रोजाना सूर्य को जल देना चाहिए। ऐसा इसलिए क्यों सूर्य और इसकी रोशनी शरीर में हैप्पी हार्मोन्स बढ़ाने में मदद करती है। ये कॉर्टिसोल जैसे स्ट्रेस होर्मोन को कंट्रोल करने और डोपामाइन बढ़ाने में मदद करता है। साथ ही इससे नए और अच्छे विचार आते हैं जो कि डिप्रेशन के रोगी के लिए जरूरी है। 

3. हाई बीपी और दिल के मरीज को

हाई बीपी की शुरुआत ही स्ट्रेस से होती है और सूर्य आपको मानसिक और शारीरिक रूप से ऐसे मजबूत करता है कि आप स्ट्रेस को मैनेज कर लेचे हैं। साथ ही यह कुंडली में सूर्य को मजबूत करता है जिससे आप दिल की बीमारियों से बचे रहते हैं। 

Bride Griha Pravesh: शादी के बाद ऐसे करें नववधू का गृह प्रवेश, घर पर बनी रहेगी सुख-शांति

सूर्य को जल देने के नियम और सही समय

सूर्य को जल देने के लिए आपको सुबह 9 बजे से पहले उठना होगा। बेहतर तो यही होगा कि आप सूर्य उदय के समय उन्हें जल दें। इस दौरान तांबे के लोटे में  चावल,  चंदन और फूल डालकर पूर्व दिशा की ओर गायत्री मंत्र पढ़ते हुए सूर्य को जल दें। ये आपके मन और सेहत दोनों के लिए कारगर तरीके से काम करेगा।

Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं। इंडिया टीवी इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है। इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है।

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Vastu Tips News in Hindi के लिए क्लिक करें धर्म सेक्‍शन