टी20 के बाद वनडे डेब्यू को भी भूलकर याद नहीं करना चाहेंगे मोहम्मद सिराज! ये है खास वजह

Read In English

मैच में भारतीय टीम ने एक बदलाव करते हुए खलील अहमद की जगह मोहम्मद सिराज को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया था। सिराज का ये वनडे डेब्यू था। लेकिन वे अपना ये डेब्यू शायद ही याद रखना चाहेंगे।

India TV Sports Desk Written by: India TV Sports Desk
Updated on: January 16, 2019 10:35 IST
टी20 के बाद वनडे डेब्यू को भी भूलकर याद नहीं करना चाहेंगे मोहम्मद सिराज! ये है खास वजह- India TV Hindi News
Image Source : AP टी20 के बाद वनडे डेब्यू को भी भूलकर याद नहीं करना चाहेंगे मोहम्मद सिराज! ये है खास वजह

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एडिलेड में खेले गए दूसरे वनडे में भारत ने 6 विकेट से जीत हासिल कर सीरीज में बराबरी कर ली है। कप्तान विराट कोहली (104) और अनुभवी बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 55) की बेहतरीन पारियों के दम पर भारत ने मंगलवार को एडिलेड ओवल मैदान पर खेले गए दूसरे वनडे मैच में आस्ट्रेलिया को छह विकेट से हरा दिया। आस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 298 रन बनाए थे। भारत ने इस लक्ष्य को चार गेंद शेष रहते हुए हासिल कर लिया। इस मैच में भारतीय टीम ने एक बदलाव करते हुए खलील अहमद की जगह मोहम्मद सिराज को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया था। सिराज का ये वनडे डेब्यू था। लेकिन वे अपना ये डेब्यू शायद ही याद रखना चाहेंगे। 

दरअसल मोहम्मद सिराज ने अपने डेब्यू मैच में 10 ओवर के स्पैल में 76 रन दिए और उन्हें एक भी विकेट नहीं मिला। वे भारत की तरफ से अपने डेब्यू वनडे मैच में सबसे ज्यादा रन देने वाले दूसरे गेंदबाज बन गए हैं। सिराज से आगे करसन घावरी हैं जिन्होंने 1975 में इग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में अपने वनडे डेब्यू मैच में 83 रन दिए थे और कोई विकेट नहीं मिला था। अब सिराज दूसरे नंबर आ गए हैं। तीसरे नंबर पर अमित भंडारी हैं जिन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ ढाका में 2000 में 75 रन दिए थे और एक भी सफलता हासिल नहीं की थी।  

वहीं सिराज के लिए केवल वनडे ही नहीं बल्कि टी20 डेब्यू भी ज्यादा अच्छा नहीं रहा था और उसमें भी शर्मनाक रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था। दरअसल सिराज ने 2017 में न्यूजीलैंड के खिलाफ राजकोट में टी20 डेब्यू किया था। लेकिन उन्होंने अपने चार ओवर के स्पैल में 53 रन दे दिए। हालांकि उन्हें एक सफलता जरूर मिली लेकिन वे भारत की तरफ से टी20 डेब्यू करते हुए सबसे ज्यादा रन देने वाले दूसरे गेंदबाज बन गए। पहले नंबर पर जोगिंदर शर्मा हैं जिन्होंने 2007 में डरबन में टी20 वर्ल्ड कप के दौरान इंग्लैंड के खिलाफ चार ओवर के स्पैल में 57 रन दे दिए थे और एक भी विकेट उन्हें नहीं मिला था। वहीं तीसरे नंबर पर आशीष नेहरा हैं जिन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 2009 में नागपुर में खेले गए एक मैच में 52 रन खर्च किए थे। 

Latest Cricket News

लाइव स्कोरकार्ड

navratri-2022