Live TV
GO
Advertisement
Hindi News सिनेमा बॉलीवुड कौन है लक्ष्मी अग्रवाल, जिनकी कहानी...

कौन है लक्ष्मी अग्रवाल, जिनकी कहानी सुनकर रो पड़ी थीं दीपिका, 'छपाक' में निभा रही हैं उन्हीं का किरदार

जब लक्ष्मी पर तेजाब फेंका गया उनका पूरा चेहरा जल गया। उन्हें तुरंत दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया।

India TV Entertainment Desk
India TV Entertainment Desk 25 Mar 2019, 19:45:19 IST

मुंबई: एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी पर आधारित फिल्म छपाक में दीपिका लीड रोल निभा रही हैं। जबसे फिल्म से दीपिका का फर्स्ट लुक आया है लोग दीपिका और मेकअप आर्टिस्ट की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। अब बात करते हैं इस फिल्म की असली हीरो लक्ष्मी अग्रवाल की। यह कहानी एक ऐसी मासूम लड़की की है जिसके साथ हुए एक बुरे हादसे ने उसकी पूरी जिंदगी बदलकर रख दी। आइए हम आपको लक्ष्मी अग्रवाल की दर्द और हिम्मत से भरी कहानी बताते हैं।

दीपिका पादुकोण की फिल्म 'छपाक'  दिल्ली की रहने वाली लक्ष्मी अग्रवाल की कहानी है, जिस पर 15 साल की उम्र में किसी ने तेजाब डाल दिया था। दिल्ली के खान मार्केट की एक दुकान में काम करने वाली लक्ष्मी का गुनाह सिर्फ इतना था कि उसने अपने से दोगुने उम्र के एक व्यक्ति के प्रेम प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। लक्ष्मी उस वक्त सातवीं क्लास में थीं उन्हें दुनिया की समझ भी नहीं थी। लेकिन इस हादसे ने उनकी जिंदगी पूरी तरह से बदल दी।

जब लक्ष्मी पर तेजाब फेंका गया उनका पूरा चेहरा जल गया। उन्हें तुरंत दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया। लक्ष्मी ने बताया कि उनके मुंह पर तेजाब गिराने वाले उस लड़के के साथ एक लड़की भी शामिल थी। 

लक्ष्मी ने अपने साथ हुए हादसे के बारे में बताते हुए कहा- तेजाब गिरते वक्त मेरे शरीर की स्किन प्लास्टिक की तरह पिघल रही थी। इतना दर्द हो रहा था जैसे उनके सिर पर कई पत्थर रख दिए गए हों। लक्ष्मी ने अपने पिता को गले लगाया था रोने के लिए लेकिन उनको जैसे ही लक्ष्मी ने गले लगाया उसके छूने से शर्ट कई जगह से जल गई थी।

लक्ष्मी ने बताया कि उनके लिए सबसे ज्यादा खौफनाक मंजर तब था जब वो होश में थीं और डॉक्टर उनकी आंखें सिल रहे थे। वो समझ नहीं पा रही थीं कि उनके साथ क्या हो रहा है। कई सारी सर्जरीज के बाद वो अपने घर लौटीं, उनके परिवार वालों ने घर के सारे शीशे हटा दिए थे। एक दिन जब लक्ष्मी ने अपना चेहरा एक शीशे में देखा तो उनका मन किया कि वो खुदकुशी कर लें।

लक्ष्मी ने बताया कि उनके लिए एसिड अटैक के बाद की जिंदगी बहुत कठिन रही। लोग या तो उनका चेहरा देखकर मुंह फेर लेते या फिर बेचारी कहते। लोग उन्हें सलाह देते कि वो चेहरा ढककर रहा करें क्योंकि वो भयानक लगती हैं।

लक्ष्मी ने बताया कि एसिड अटैक ने तो एक बार उनके चेहरे को झुलसाया लेकिन अपमान से वो कई बार झुलसी हैं। लक्ष्मी ने बताया कि वो कई बार चाहती थीं कि खुदकुशी कर ले लेकिन अस्पताल में रोते हुए मां बाप का चेहरा याद आ जाता और फिर उन्होंने ये जिंदगी जीने का फैसला किया।

आज लक्ष्मी एक सेलिब्रिटी बन चुकी हैं, उन्होंने एसिड अटैक से जूझ रही तमाम लड़कियों को अपनी तरह हौसले से जीना सिखाया। आज हर कोई उन्हें जानता है। वो तो इंदौर में हुए एक फैशन शो में भी भाग ले चुकी हैं, अब लक्ष्मी को हर कोई जानता है। साल 2014 में लक्ष्मी को मिशेल ओबामा ने इंटनेशनल विमेन ऑफ करेज का अवॉर्ड भी दिया है। लक्ष्मी अपने ब्वॉयफ्रेंड आलोक दीक्षित के साथ लिव इन में रहती हैं, उन दोनों की एक बेटी भी है जिसका नाम पीहू है।

इसे भी पढ़ें-

क्या रोहित शेट्टी की फिल्म सूर्यवंशी में अक्षय कुमार की हीरोइन होंगी कटरीना कैफ

दीपिका पादुकोण अपनी अगली फिल्म छपाक में निभाएंगी एसिड अटैक सर्वाइवर का किरदार

साल 2019 में पहले वीकेंड सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बनी केसरी

 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Bollywood News in Hindi के लिए क्लिक करें सिनेमा सेक्‍शन