Live TV
GO
Advertisement
Hindi News खेल क्रिकेट इस पिच पर एक दिन में...

इस पिच पर एक दिन में 200 रन बनाना मुश्किल काम है- चेतेश्वर पुजारा

चेतेश्वर पुजारा को तेजी से रन बनाने के लिए नहीं जाना जाता लेकिन मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड की धीमी पिच ने यहां ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे क्रिकेट टेस्ट की पहली पारी में ठोस बल्लेबाजी करने वाले तीसरे नंबर के इस बल्लेबाज को भी काफी परेशान किया।

Bhasha
Bhasha 27 Dec 2018, 17:46:15 IST
मेलबर्न। चेतेश्वर पुजारा को तेजी से रन बनाने के लिए नहीं जाना जाता लेकिन मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड की धीमी पिच ने यहां ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे क्रिकेट टेस्ट की पहली पारी में ठोस बल्लेबाजी करने वाले तीसरे नंबर के इस बल्लेबाज को भी काफी परेशान किया।
 
भारत ने दूसरे दिन गुरुवार को सात विकेट पर 443 रन बनाने के बाद पहली पारी घोषित की जिसके बाद 106 रन बनाने वाले पुजारा ने कहा,‘‘हमें पिच के बर्ताव और स्थिति के अनुसार बल्लेबाजी करनी पड़ी। इस पिच पर रन बनाने के लिए प्रत्येक बल्लेबाज को काफी गेंद खेलनी होंगी। अगर कोई और विकेट होता तो इतनी सारी गेंद खेलने के बाद मैं शायद 140 से 150 रन बना लेता। लेकिन टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजी करते हुए स्थिति और पिच दोनों को पढ़ना महत्वपूर्ण है।’’
 
पुजारा ने स्वीकार किया कि पिच पर बल्लेबाजी करना बेहद मुश्किल है और उनकी टीम ने जो रन बनाए हैं वे ऑस्ट्रेलिया को चुनौती लेने के लिए पर्याप्त हैं। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा,‘‘यह रन बनाने के लिए मुश्किल पिच है। अगर हम पहले दो दिन देखें तो काफी कम रन बने और इस तरह से मैं कहूंगा कि दिन में 200 रन बनाना मुश्किल काम है, इसलिए मुझे लगता है कि हमने पर्याप्त रन बनाए हैं।’’
 
सौराष्ट्र के इस बल्लेबाज का मानना है कि असमान उछाल ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों के लिए समस्या पैदा करेगा। पुजारा भी नीची रहती गेंद पर आउट हुए। उन्होंने कहा,‘‘एक बल्लेबाज के रूप में इस तरह की पिच पर खेलते हुए हमेशा भ्रम की स्थिति रहती है और मैं जिस गेंद पर आउट हुआ उस पर कुछ नहीं कर सकता था। इसलिए जब गेंद नीची रहती है तो आपके पास सीमित विकल्प होते हैं।’’
 
पुजारा ने कहा,‘‘हमने आज देखा कि पिच ने टूटना शुरू कर दिया है और इस पर असमान उछाल है। जब मैंने कल और आज बल्लेबाजी की तो अंतर महसूस किया था।’’ 
 
उन्होंने कहा,‘‘इसलिए मुझे नहीं लगता कि अब बल्लेबाजी करना आसान होगा। कल के बाद से मुझे लगता है कि बल्लेबाजी मुश्किल होती जाएगी और हमारे गेंदबाज अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं इसलिए मुझे लगता है कि हमने पर्याप्त रन बनाए हैं।’’ 
 
पुजारा ने कहा कि पिच पर असमान उछाल से भारतीय गेंदबाजों को भी मदद मिलेगी। पुजारा ने विराट कोहली के साथ तीसरे विकेट के लिए 170 रन की साझेदारी की। कोहली ने 82 रन बनाए और भारतीय कप्तान ने पीठ में तकलीफ की शिकायत की लेकिन पुजारा ने कहा कि यह कोई गंभीर मामला नहीं लगता। 
 
उन्होंने कहा,‘‘वह गेंद को बेहतरीन तरीके से टाइम करता है। उसका स्ट्रेट ड्राइव मुझे सबसे अधिक पसंद है, विशेषकर इस पारी में। जब मैं गेंदबाजी छोर पर खड़ा था तो वह जिस तरह से गेंद को हिट कर रहा था तो मैं सब कुछ देख सकता था। यह ऐसा शॉट है जिसे देखने का मैंने सचमुच लुत्फ उठाया।’’ 
India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन