Live TV
GO
Advertisement
Hindi News पैसा बिज़नेस चीनी राष्‍ट्रपति के साथ मुलाकात से...

चीनी राष्‍ट्रपति के साथ मुलाकात से पहले डोनाल्‍ड ट्रंप ने दिया आदेश, कहा जनरल मोटर्स चीन में बंद करे कार बनाना

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जनरल मोटर्स से चीन में अपना विनिर्माण रोकने के लिए कहा है।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 27 Nov 2018, 14:27:02 IST

वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जनरल मोटर्स से चीन में अपना विनिर्माण रोकने के लिए कहा है। जनरल मोटर्स के अमेरिका और कनाडा में अपने कारखानों में 14,800 नौकरियों के खत्म करने की घोषणा के बाद उन्होंने यह बात कही। 

कंपनी के निर्णय पर तत्काल प्रतिक्रिया देते हुए ट्रंप ने जनरल मोटर्स से अपने फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए कहा। उल्लेखनीय है कि अमेरिका की जनरल मोटर्स ने 2020 तक अपनी लागत में 4.5 अरब डॉलर बचत करने का निर्णय किया है। इससे ओहियो और मिशिगन जैसे राज्यों में बड़े पैमाने पर नौकरियों पर फर्क पड़ेगा। वॉलस्‍ट्रीट जरनल के मुताबिक ट्रंप ने जनरल मोटर्स की कार्यकारी प्रमुख मैरी बर्रा से कहा कि वह चीन में कारों के विनिर्माण को रोकें और उसके स्थान पर ओहियो में एक नया संयंत्र शुरू करें। इससे पहले व्हाइट हाउस में ट्रंप ने कहा कि वह जनरल मोटर्स के निर्णय से खुश नहीं हैं।

ट्रंप ने दी चीनी सामान पर आयात शुल्‍क बढ़ाने की चेतावनी  

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चेतावनी दी है कि यदि चीन के साथ व्यापार वार्ता ठीक नहीं रहती है तो 200 अरब डॉलर के चीनी सामान पर आयात शुल्क बढ़ाने के साथ ही वह बचे हुए चीनी सामान पर भी आयात शुल्क लगाएंगे। उल्लेखनीय है कि अमेरिका ने 200 अरब डॉलर के चीनी सामान पर आयात शुल्क मौजूदा 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 25 प्रतिशत करने का निर्णय किया है। 

ट्रंप का यह बयान इस हफ्ते अर्जेंटीना के ब्यूनस आयर्स में जी-20 शिखर सम्मेलन में से अलग चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच होने वाली मुलाकात से पहले आया है। इस बैठक में दोनों के बीच व्यापार तनाव कम करने के मुद्दे पर बातचीत होने की संभावना है। ट्रंप का कहना है कि इस बात की संभावना बहुत कम है कि वह पहले से तय चीनी सामान पर आयात शुल्क वृद्धि को वापस लेने के चीन के अनुरोध पर सहमत हों। उन्होंने कहा यदि हम किसी समझौते पर नहीं पहुंचते हैं, तो मैं 10 प्रतिशत या 25 प्रतिशत की दर पर 267 अरब डॉलर के अतिरिक्त सामान पर भी शुल्क लगा दूंगा। उन्होंने कहा चीन से आयात किए जाने वाले एपल के आईफोन और लैपटॉप पर भी आयात शुल्क लगाया जा सकता है। 

ट्रंप ने कहा कि चीन हमारे साथ ऐसा (व्यापार में अनुचित व्यवहार) व्यवहार क्यों नहीं करेगा? जब हमने उसे ऐसा करने की अनुमति दी है। फिर चाहे पूर्व राष्ट्रपति ओबामा हों या उनसे पहले के राष्ट्रपति, उन सभी ने उसे ऐसा करने की अनुमति दी है। उन्होंने कहा कि चीन के साथ व्यापार एकतरफा है। हमें प्रतिवर्ष 375 अरब डॉलर का घाटा हो रहा है। 
ट्रंप ने कहा कि लेकिन व्यापार में हमें जिस धन का नुकसान हुआ, उससे वास्तव में हमने चीन के पुननिर्माण में मदद की और मैंने करीब एक साल पहले यह तय किया कि मैं ऐसा और नहीं होने दूंगा।