Live TV
GO
Advertisement
Hindi News पैसा बिज़नेस P-notes के जरिये निवेश में हुई...

P-notes के जरिये निवेश में हुई वृद्धि, मार्च अंत तक देश में आए 78,110 करोड़ रुपए

पंजीकृत विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) उन विदेशी निवेशकों को पी-नोट्स जारी करते हैं, जो भारतीय शेयर बाजार में निवेश तो करना चाहते हैं लेकिन अपना पंजीकरण नहीं कराना चाहते हैं।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 17 Apr 2019, 15:39:09 IST

नई दिल्ली। घरेलू शेयर बाजारों में पार्टिसिपेटरी नोट्स (पी-नोट्स) के जरिये निवेश मार्च के अंत तक बढ़कर 78,110 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। सकारात्मक बाजार धारणा के बीच पी-नोट्स के जरिये निवेश बढ़ा है। 

पंजीकृत विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) उन विदेशी निवेशकों को पी-नोट्स जारी करते हैं, जो भारतीय शेयर बाजार में निवेश तो करना चाहते हैं लेकिन अपना पंजीकरण नहीं कराना चाहते हैं। पी-नोट्स छानबीन की प्रक्रिया के बाद जारी किए जाते हैं। 

भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के ताजा आंकड़ों के अनुसार मार्च के अंत तक पी-नोट्स के जरिये भारतीय बाजारों (शेयर, बांड और डेरिवेटिव्स) में निवेश 78,110 करोड़ रुपए रहा। फरवरी के अंत तक यह आंकड़ा 73,428 करोड़ रुपए था। 

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि पी-नोट्स के जरिये निवेश नकद खंड में एफपीआई के प्रवाह में वृद्धि के अनुरूप है। यह फरवरी में 13,500 करोड़ रुपए था, जो मार्च में बढ़कर 32,000 करोड़ रुपए हो गया। मार्च अंत तक कुल पी-नोट निवेश में 56,288 करोड़ रुपए शेयरों में, 20,999 करोड़ रुपए डेट में और 119 करोड़ रुपए डेरीवेटिव मार्केट में निवेश किए गए हैं।