Live TV
GO
Advertisement
Hindi News पैसा बिज़नेस स्विफ्ट सॉफ्टवेयर का सही इस्‍तेमाल न...

स्विफ्ट सॉफ्टवेयर का सही इस्‍तेमाल न करने पर यस बैंक व ICICI बैंक पर लगा 1-1 करोड़ का जुर्माना, इसी वजह से हुआ था PNB में घोटाला

स्विफ्ट संदेश भेजने वाला एक वैश्विक सॉफ्टवेयर है, जिसका इस्तेमाल वित्तीय संस्थाएं लेनदेन के लिए करती हैं।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 05 Mar 2019, 18:47:32 IST

नई दिल्‍ली। भारतीय रिजर्व बैंक ने स्विफ्ट मैसेजिंग सॉफ्टवेयर से जुड़े दिशा-निर्देशों का अनुपालन नहीं करने को लेकर यस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक पर एक-एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। केंद्रीय बैंक ने इसके अलावा सार्वजनिक क्षेत्र के इलाहाबाद बैंक पर नोस्‍ट्रो एकाउंट्स पर जारी दिशा-निर्देशों का पालन न करने के कारण 2 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। नोस्‍ट्रो एकाउंट ऐसा खाता होता है जो बैंक किसी दूसरे बैंक में विदेशी मुद्रा में रखता है।

यस बैंक ने शेयर बाजारों को दी गयी सूचना में कहा है कि रिजर्व बैंक ने स्विफ्ट से जुड़े परिचालन नियंत्रणों के क्रियान्वयन के आकलन के दौरान दिशा-निर्देशों का अनुपालन नहीं करने को लेकर बैंक पर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। स्विफ्ट संदेश भेजने वाला एक वैश्विक सॉफ्टवेयर है, जिसका इस्तेमाल वित्तीय संस्थाएं लेनदेन के लिए करती हैं। 

उल्लेखनीय है कि इस मैसेजिंग सॉफ्टवेयर के दुरुपयोग से पीएनबी में 14,000 करोड़ रुपए की भारी धोखाधड़ी को अंजाम दिया गया था। पीएनबी धोखाधड़ी मामले के बाद आरबीआई का रुख बैंकों के लेनदेन को लेकर कड़ा बना हुआ है। 

इससे पहले सोमवार को आरबीआई ने कर्नाटक बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और करूर वैश्य बैंक पर स्विफ्ट से जुड़े दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करने को लेकर कुल आठ करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया था।