Live TV
GO
Advertisement
Hindi News पैसा बिज़नेस सौर उर्जा कार्यक्रम के लिए विश्वबैंक,...

सौर उर्जा कार्यक्रम के लिए विश्वबैंक, स्टेट बैंक के बीच 62.5 करोड़ डॉलर का समझौता

SBI ने विश्वबैंक के साथ 62.5 करोड़ डॉलर के एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं जिससे देश में छत पर ग्रिड से जुड़े सौर उर्जा कार्यक्रम को तेजी से बढ़ाने में सहयोग किया जाएगा।

Abhishek Shrivastava
Abhishek Shrivastava 02 Jul 2016, 19:11:28 IST

नई दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक ने विश्व बैंक के साथ 62.5 करोड़  डॉलर के एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, जिससे देश में छत पर ग्रिड से जुड़े सौर ऊर्जा कार्यक्रम को तेजी से बढ़ाने में सहयोग किया जाएगा। देश के सबसे बड़े बैंक ने एक बयान में बताया कि इससे उसे देश में छत पर ग्रिड से जुड़ी सौर फोटोवोल्टिक परियोजनाओं के लिए प्रतिस्पर्धी दरों में वित्त पोषण में मदद मिलेगी।

बयान में कहा गया है कि इससे सौर ऊर्जा क्षेत्र के बाजार में तेजी आएगी और बड़ी संख्या में छत पर लगने वाले सौर ऊर्जा फोटोवोल्टिक सौर पैनल के जरिये सरकार के 40 गीगावाट बिजली उत्पादन के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को पूरा करने में मदद मिलेगी। सस्ते कर्ज की इस सुविधा का लाभ वाणिज्यिक, औद्योगिक और संस्थागत प्रतिष्ठानों की छतों पर सौर ऊर्जा फोटोवोल्टिक परियोजना लगाने वाले विकासकर्ता, समूहक और अंतिम प्रयोक्ता को मिलेगा।

इस पहल से देशभर में कम से कम 400 मेगावाट सौर ऊर्जा क्षमता का विकास किया जाएगा। समझौते पर भारतीय स्टेट बैंक के उप प्रबंध निदेशक करणम सेकर और विश्वबैंक के भारत निदेशक ओन्नो रूह्ल ने वित्त मंत्री अरुण जेटली, बिजली मंत्री पीयूष गोयल, विश्वबैंक के अध्यक्ष जिम योंग किम और आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास की मौजूदगी में हस्ताक्षर किए।

यह भी पढ़ें- अब फेसबुक, ट्वीटर के जरिए मिलेंगी बैंकिंग सेवाएं, SBI ने की मिंगल की शुरुआत

यह भी पढ़ें- वर्ल्‍ड बैंक देगा भारत के सोलर पावर प्रोजेक्‍ट्स को 1 अरब डॉलर की मदद, सौर्य ऊर्जा उत्‍पादन को मिलेगा बढ़ावा

कोरोना से जंग : Full Coverage