Live TV
GO
Advertisement
Hindi News सिनेमा बॉलीवुड कंगना रनौत बर्थडे: 17 साल की...

कंगना रनौत बर्थडे: 17 साल की उम्र में मुंबई पहुंची कंगना को कैसे मिला स्टारडम, जानिए बॉलीवुड क्वीन का फिल्मी सफर

कंगना रनौत आज अपना 32वां बर्थडे मना रही हैं। कंगना की हालिया रिलीज मणिकर्णिका ने बॉक्स ऑफिस पर अपना कमाल दिखा ही दिया है। अब कंगना अपनी आने वाली फिल्म 'मेंटल है क्या' के रिलीज का इंतजार कर रही हैं।

India TV Entertainment Desk
India TV Entertainment Desk 23 Mar 2019, 7:45:44 IST

कंगना रनौत आज अपना 32वां बर्थडे मना रही हैं। कंगना की हालिया रिलीज मणिकर्णिका ने बॉक्स ऑफिस पर अपना कमाल दिखा ही दिया है। अब कंगना अपनी आने वाली फिल्म 'मेंटल है क्या' के रिलीज का इंतजार कर रही हैं। हिमाचल प्रदेश के एक छोटे से टाउन मंडी में जन्मी कंगना के माता-पिता शुरु से चाहते थें कि कंगना बड़ी होकर डॉक्टर बने लेकिन कंगना ने अपनी जिंदगी के लिए कुछ और ही चुना था। कंगना जब स्कूल में थी तभी से यह मन बना लिया था कि वह दिल्ली जाकर मॉडलिंग एजेंसी के साथ काम करेंगी। और दिल्ली में मॉडलिंग के बाद कंगना 2006 में मुंबई पहुंची। फिर उन्हें डॉरेक्टर अनुराग बसु की फिल्म गैंगस्टर से पहला ब्रेक मिला। फिल्म को उस वक्त कई अवार्ड मिले, इस फिल्म में कंगना ने एक शराबी औरत का रोल किया था जिसे एक क्रिमीनल से प्यार हो जाता है। उसके बाद कंगना को फिल्म वह लम्हे और लाइफ इन अ मेट्रो में रोल मिली। इन सब फिल्मों में अलावा कंगना को ऐसी कोई फिल्म नहीं मिली जिनसे उनकी कोई अलग पहचान बन सके लेकिन 2008 में कंगना की लाइफ में कुछ ऐसा हुआ जिसने सबकुछ बदलकर रख दिया चलिए तो आज आपको कंगना के जन्मदिन पर बताते हैं कि 17 साल की उम्र में मुंबई आई कंगना ने कैसे स्टारडम का मजा चखा।

महेश भट्ट की फिल्म 'गैंगस्टर' से कंगना रनौत को पहला ब्रेक मिला और इसी फिल्म के लिए कंगना ने अवॉर्ड जीता। 

पहले ऑडिशन में हुई थीं रिजेक्ट 
एक इंटरव्यू में कंगना ने बताया था कि महेश भट्ट के ऑफिस में मोहित सूरी और अनुराग बसु से मेरी मुलाकात हुई। उस वक्त गैंगस्टर के लिए ऑडिशन हो रहा था। मैंने ऑडिशन तो दिया लेकिन मेरी कम उम्र की वजह से महेश भट्ट ने मुझे रिजेक्ट कर दिया। फिल्म के लिए शाइनी आहूजा और चित्रांगदा सिंह को कास्ट कर लिया गया था। तकरीबन दो महीने बाद एक दिन अनुराग ने फोन करके कंगना को शूटिंग पर आने के लिए कहा क्योंकि चित्रांगदा किसी पर्सनल रीजन से फिल्म छोड़ चुकी थीं। अनुराग का मानना था कि मैं 'गैंगस्टर' की स्टोरी के लिए परफेक्ट हूं। इस तरह मुझे पहली फिल्म मिली।

तीन बार नेशनल अवॉर्ड विनर हैं क्वीन 
कंगना ने 'फैशन' (2009), 'क्वीन' (2014) और 'तनु वेड्स मनु रिटर्न्स' (2015) जैसी बेहतरीन फिल्में की हैं। उन्हें अपना पहला अवॉर्ड काफी कम उम्र में ही मिल गया था। कंगना को तीन बार नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है। कंगना पिछले 10 दिनों से कोयंबटूर में स्पेशल मेडिटेशन कर रही थीं। कंगना ने अपने इस बर्थ डे को स्पेशल बनाने के लिए 10 दिन का मौन रखा था। बता दें कि पिछले साल कंगना ने अपने नए घर में फैमिली के साथ बर्थडे सेलिब्रेट किया था और 31 पौधों भी लगाए थे। 

पापा से लड़कर पूरा किया सपना 
कंगना हिमाचल प्रदेश के एक छोटे से कस्बे भांबला में जन्मी थीं। कंगना की मां टीचर हैं और पिता बिजनेसमैन। कंगना दादाजी नेता थे और इस वजह से उनके घर के माहौल में राजनीति का रंग भी था। कंगना ने बॉलीवुड में आने के लिए घर में पिता से झगड़ा किया, समाज से लड़ी और एक लंबे संघर्ष के बाद आज वो बॉलीवुड की हाइएस्ट पेड एक्ट्रेसेस में से एक हैं। पिछले साल आई एक रिपोर्ट के मुताबिक़ कंगना  अपनी एक फिल्म के लिए 11 करोड़ रुपये तक की फीस ली थी।

 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Bollywood News in Hindi के लिए क्लिक करें सिनेमा सेक्‍शन