Live TV
GO
Advertisement
Hindi News विदेश एशिया श्रीलंकाई राष्ट्रपति से बोले PM मोदी,...

श्रीलंकाई राष्ट्रपति से बोले PM मोदी, आपके देश की हर तरह से मदद करने को तैयार है भारत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाल की राजधानी काठमांडू में श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना से मुलाकात की।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 30 Aug 2018, 21:26:07 IST

काठमांडू: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाल की राजधानी काठमांडू में श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना से मुलाकात की। इस बैठक में दोनों नेताओं के बीच भारत-श्रीलंका संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर विस्तृत चर्चा हुई। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने श्रीलंका को उसकी इच्छा के अनुसार मदद करने का भरोसा भी दिया। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री मोदी ने श्रीलंका के राष्ट्रपति के साथ विकास में सहयोग तथा द्विपक्षीय संबंधों से संबद्ध अन्य क्षेत्रों को मजबूत बनाने के लिए सकारात्मक बातचीत की।

दोनों नेताओं की मुलाकात नेपाल की राजधानी काठमांडू में ‘बंगाल की खाड़ी बहु-क्षेत्रीय तकनीकी एवं आर्थिक सहयोग पहल’ (बिम्स्टेक) के चौथे शिखर सम्मेलन से इतर हुई। मोदी ने ट्वीट किया कि राष्ट्रपति सिरिसेना से मिलने पर खुशी हुई। मोदी ने ट्वीट में लिखा कि हमने भारत-श्रीलंका मित्रता के विभिन्न पहलुओं पर व्यापक विचार-विमर्श किया। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री मोदी और श्रीलंकाई राष्ट्रपति सिरीसेना ने काठमांडो में बिम्सटेक शिखर सम्मेलन से इतर मुलाकात की। करीबी मित्र और मूल्यवान पड़ोसी के साथ सहयोग को मजबूत बनाने पर जोर दिया गया।

विदेश सचिव विजय गोखले ने ब्रीफिंग के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति सिरिसेना से मुलाकात की और दोनों नेताओं ने विकास सहयोग की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि श्रीलंका में हम जिन परियोजनाओं पर काम कर रहे हैं उन पर चर्चा की गई और प्रधानमंत्री ने दोहराया कि भारत यह सुनिश्चित करने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है कि हम इन परियोजनाओं को आगे बढ़ाने में श्रीलंका की इच्छा के अनुसार सहायता करेंगे। बिम्सटेक एक क्षेत्रीय समूह है जिसमें बांग्लादेश, भारत, म्यामां, श्रीलंका, थाईलैंड, भूटान और नेपाल शामिल हैं। इन देशों में दुनिया की 22 प्रतिशत आबादी रहती है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन