1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना होगा अब और आसान, टेस्ट को लेकर मिलेगी ये बड़ी राहत

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना होगा अब और आसान, टेस्ट को लेकर मिलेगी ये बड़ी राहत

अगले साल से स्थाई ड्राइविंग लाइसेंस के इच्छुक लोग हफ्ते के सातों दिन सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक कभी भी अपनी सुविधा के अनुसार ड्राइविंग टेस्ट दे सकेगें। ये सुविधा दिल्ली के सबसे व्यस्त 5 आरटीओ ऑफिस में शुरू की जायेगी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: July 09, 2021 9:45 IST
ड्राइविंग लाइसेंस...- India TV Paisa
Photo:FILE

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना होगा आसान

नई दिल्ली।  नई दिल्ली में अगले साल से ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना और आसान हो जायेगा। दरअसल दिल्ली में ट्रांसपोर्ट विभाग टेस्ट के लिये समय को बढ़ाने जा रहा है, जिससे लोग अपनी सुविधा के अनुसार समय चुन सकेंगे और लाइसेंस बनवाने की औपचारिकता अपनी सहूलियत के मुताबिक पूरी कर सकेंगे।

क्या है ये योजना

योजना के मुताबिक अगले साल से स्थाई ड्राइविंग लाइसेंस के इच्छुक लोग हफ्ते के सातों दिन सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक कभी भी अपनी सुविधा के अनुसार ड्राइविंग टेस्ट दे सकेगें। ये सुविधा दिल्ली के सबसे व्यस्त 5 आरटीओ ऑफिस में शुरू की जायेगी, जो आगे अन्य ऑफिस तक विस्तार की जा सकती है। विभाग के मुताबिक अगले साल से  सप्ताह के सभी दिन 12-12 घंटे की शिफ्ट शुरू की जायेगी। ये सुविधा सराय काले खां, रोहिणी, लोनी रोड, शकूर बस्ती, रोहिणी और जनकपुरी में मिलेगी। इन 5 आरटीओ ऑफिस में सबसे ज्यादा एप्लीकेशन आती हैं। विभाग के मुताबिक अगर अन्य ऑफिस से काम का बोझ बढ़ता है तो वहां पर भी ऐसी ही सुविधा दी जा सकती है। इन 5 ऑफिस में ऑटोमेटेड ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक हैं। विभाग पूरी दिल्ली में अगले साल तक ऐसे कुल 12 ऑटोमेटेड ड्राइविंग टेस्ट ट्रेक बनाने की योजना पर चल रहा है। 

क्यों लिया गया ये फैसला
एप्लीकेशन ज्यादा होने की वजह से कई बार लोगों को उनके हिसाब से समय नहीं मिल पाता था। ऐसे में वो टेस्ट में शामिल नहीं हो पाते थे और डीएल न होने के वजह से बिना डीएल की वाहन चलाने लगते थे। समय को लेकर शिकायतें लगातार मिलती रहती थीं। विभाग के मुताबिक समय बढ़ाने से लोगों को उनके मुताबिक समय देना आसान हो जायेगा।

क्या होंगी सुविधायें
भीड़ भाड़ को नियंत्रित करने के लिये सेंटर में लाइन लगाने के लिये इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम भी होंगे। विभाग ड्राइविंग लाइसेंस को तैयार करने और उन्हें लोगों के पते तक भेजने के लिये निजी कंपनियों को भी जोड़ेगा। पूरे सेंटर को सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में रखा जायेगा, जिसका सीधा प्रसारण मुख्यालयों में देखा जा सकेगा। विभाग उम्मीद जता रहा है कि इन सभी कदमों से गड़बड़ियों की संभावनाओं को खत्म किया जा रहा है, और प्रक्रिया को तेज और आसान बनाने में मदद मिलेगी।

 

यह भी पढ़ें: अगले हफ्ते खुलेगा Zomato का आईपीओ, निवेशकों के लिये कमाई का मौका

यह भी पढ़ें: दिल्ली NCR में बढ़े CNG के दाम, PNG की कीमतों में भी बढ़त, जानिए नए दाम

 

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X