1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. तिमाही नतीजे: बजाज ऑटो को जून तिमाही में 1,170 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ

तिमाही नतीजे: बजाज ऑटो को जून तिमाही में 1,170 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ

पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ कोविड-19 के कारण लगाए लॉकडाउन से आर्थिक गतिविधियों के बाधित होने के कारण केवल 395.51 करोड़ रुपये था।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 22, 2021 21:33 IST
बजाज ऑटो का Q1 मुनाफा 1170...- India TV Paisa
Photo:PTI

बजाज ऑटो का Q1 मुनाफा 1170 करोड़ रुपये

नई दिल्ली। दोपहिया वाहन क्षेत्र की प्रमुख कंपनी बजाज ऑटो का चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) में एकीकृत शुद्ध लाभ मजबूत निर्यात के दम पर 1,170 करोड़ रुपये रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ कोविड-19 के कारण लगाए लॉकडाउन से आर्थिक गतिविधियों के बाधित होने के कारण केवल 395.51 करोड़ रुपये था। कंपनी ने शेयर बाजार को बताया कि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में उसकी परिचालन आय 7,386 करोड़ रुपये रही,जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 3,079 करोड़ रुपये थी। बजाज ऑटो ने एक बयान में कहा, ‘‘वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही चुनौतीपूर्ण रही। पिछली तीन तिमाही में हुए सुधार को कोविड की दूसरी लहर ने बेकार कर दिया और उसकी वजह से कई राज्यों में प्रतिबंध और आंशिक लॉकडाउन भी लगा। जिससे घरेलू स्तर पर मांग कमजोर हुई और मजबूत निर्यात से भरपाई हुई।’’ इसके अलावा कंपनी ने चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कुल 10,06,014 इकाइयों की बिक्री की। जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 4,43,103 इकाइयों की बिक्री हुई थी। 

सीएसबी बैंक का शुद्ध लाभ पहली तिमाही में 14 प्रतिशत बढ़ा

निजी क्षेत्र के सीएसबी बैंक का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही अप्रैल-जून में करीब 14 प्रतिशत बढ़कर 61 करोड़ रुपये रहा। एक साल पहले इसी तिमाही में यह 53.56 करोड़ रुपये था। दक्षिण भारत के बैंक ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में उसकी कुल आय बढ़कर 571.53 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2020-21 की इसी तिमाही में 496.88 करोड़ रुपये थी। बैंक की 2020-21 की जनवरी-मार्च तिमाही में आय 609.45 करोड़ रुपये थी। सीएसबी बैंक की सकल गैर निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) 30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही में बढ़कर सकल कर्ज का 4.88 प्रतिशत हो गयी जो एक साल पहले इसी तिमाही में 3.51 प्रतिशत थी। शुद्ध एनपीए यानी फंसा कर्ज आलोच्य तिमाही में बढ़कर 3.21 प्रतिशत पहुंच गया जो एक साल पहले 1.74 प्रतिशत था। 

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X