1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. वित्त मंत्री सीतारमण आज इन सेक्टरों को दे सकती हैं राहत, शाम 4 बजे करेंगी प्रेस कॉन्फ्रेंस

आत्मनिर्भर भारत: वित्त मंत्री सीतारमण आज इन सेक्टरों को दे सकती हैं राहत, शाम 4 बजे करेंगी प्रेस कॉन्फ्रेंस

गौरतलब है कि 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में अबतक 16.04 लाख करोड़ की घोषणाएं हो चुकी हैं और 3.96 लाख करोड़ रुपए को लेकर आज घोषणा की जाएगी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: May 15, 2020 12:07 IST
Finance Minister Nirmala Sitharaman Press Conference Economic Package live Updates- India TV Paisa
Photo:@TWITTER

Finance Minister Nirmala Sitharaman Press Conference Economic Package live Updates

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए 'आत्मनिर्भर भारत' मंत्र को लेकर आर्थिक पैकेज पर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज (15 मई, 2020 शुक्रवार) तीसरी बार शाम 4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी। वित्त मंत्री आर्थिक पैकेज की तीसरी किस्त का ब्योरा देंगी। गौरतलब है कि 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में अबतक 16.04 लाख करोड़ की घोषणाएं हो चुकी हैं और 3.96 लाख करोड़ रुपए को लेकर आज घोषणा की जाएगी।

बताया जा रहा है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज एविएशन, पर्यटन और होटल इंडस्ट्री को लेकर बड़े ऐलान कर सकती हैं। बीते गुरुवार को सीतारमण में 9 प्रमुख घोषणाएं की गईं जिसमें 3 प्रवासी मजदूरों के लिए और 2 किसानों से जुड़ी हैं। गुरुवार (14 मई) को वित्त मंत्री ने कोरोना संकट काल में 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की दूसरी किस्त का ऐलान किया था। जिसमे किसानों, प्रवासी मजदूरों, रेहड़ी वालों, छोटे कारोबारियों और मिडिल क्लास के लिए कई बड़ी राहत भरी घोषणाएं की गई हैं। केंद्र सरकार ने प्रवासी मजदूरों, रेहड़ी-पटरी वालों, स्वरोजगार करने वालों और छोटे किसानों के लिए 3.16 लाख करोड़ रुपए की घोषणाएं की। 

50 लाख रेहड़ी-पटरी वाले 10 हजार रुपए का ले सकेंगे कर्ज

वित्त मंत्री सीतारमण ने 8 करोड़ प्रवासी मजदूरों के लिए 3500 करोड़ की मदद का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि अगले 2 महीने तक हर मजदूर को 5 किलो गेहूं या चावल मिलेंगे। बिना राशन कार्ड वालें लोगों को भी राशन मिलेगा। केंद्रीय वित्त मंत्री ने कहा कि अब देश में ठेली पटरी पर दुकान चलाने वाले 10 हजार रूपए का लोन ले सकेंगे, इसका फायदा देश के 50 लाख स्ट्रीट वेंडरों को होगा।

मिडिल इनकम ग्रुप, जिनकी सालाना आय 6 लाख से 18 लाख रुपए के बीच है। उनके लिए अफॉर्डेबल हाउसिंग के लिए क्रेडिट लिंक सब्सिडी स्कीम का फायदा मार्च 2021 तक बढ़ाया गया है। पहले ये योजना मार्च 2020 में खत्म हो रही थी। निर्मला सीतारमण ने कहा कि नाबार्ड किसानों के लिए 30 हजार करोड़ रुपए के अतिरिक्त इमरजेंसी फंड का फाइनेंस करेगा। ये राशि किसानों को तुरंत लोन के रूप में दी जाएगी। इसके अलावा किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए भी 2 लाख करोड़ रुपए का सस्ता लोन देश के ढाई करोड़ किसानों को दिया जाएगा। जिन किसानों के पास अब तक किसान क्रेडिट कार्ड नहीं है, वे भी कार्ड बनवाकर इसका फायदा ले सकेंगे।

Write a comment