1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. किसान आंदोलन: मोबाइल टावर को नुकसान पहुंचाने की घटनाएं बढ़ीं, जानिए कहां सेवा पर असर संभव

किसान आंदोलन: मोबाइल टावर को नुकसान पहुंचाने की घटनाएं बढ़ीं, जानिए कहां सेवा पर असर संभव

सूत्रों के मुताबिक पिछले 24 घंटे के अंदर 151 दूरसंचार टावर को नुकसान पहुंचाया गया है। इसके साथ ही अब तक कुल 1,338 दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाया जा चुका है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: December 27, 2020 16:51 IST
किसान आंदोलन- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

किसान आंदोलन

नई दिल्ली। किसान नेताओं द्वारा रिलायंस जियो के बहिष्कार की अपील के बाद मोबाइल टावर जैसी दूरसंचार क्षेत्र के इंफ्रास्ट्रक्चर में तोड़फोड़ के मामले बढ़ते जा रहे हैं। यहां तक की आंदोलन कारी पंजाब के मुख्य मंत्री की अपील भी नही मान रहे है। उनके आग्रह के बावजूद टावर को क्षतिग्रस्त करने या उसकी बिजली की सप्लाई काटने जैसी घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। ऑपरेटर्स को चिंता है कि ऐसे हालातों में मरम्मत और रखरखाव के काम में बाधा पड़ सकती है जिसका असर इन क्षेत्रों में मोबाइल नेटवर्क परदिख सकता है।

कितने टावर में हुई तोड़फोड़

सूत्रों के मुताबिक पिछले 24 घंटे के अंदर 151 दूरसंचार टावर को नुकसान पहुंचाया गया है। इसके साथ ही अब तक कुल 1,338 दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाया जा चुका है। एक सूत्र ने बताया कि पंजाब के विभिन्न स्थानों से दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाए जाने की सूचना है। उसने बताया कि जिन दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाया गया है, उनमें से ज्यादातर जियो और दूरसंचार उद्योग के साझा बुनियादी ढांचा सुविधाओं से जुड़े हैं। सूत्रों ने कहा कि हमलों का असर दूरसंचार सेवाओं पर पड़ा है और ऑपरेटर्स को सेवाओं को बहाल करने में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

क्यों हो रही मोबाइल टावर में तोड़फोड़

दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाने के पीछे किसान नेताओं के द्वारा लगाए जा रहे आरोप मुख्य वजह है जिसमें कहा गया है कि नये कृषि कानूनों से मुकेश अंबानी और गौतम अडाणी जैसे उद्योगपतियों को लाभ होगा। इसी वजह से जियो के टावर निशाने पर है, हालांकि इसमें साझा सुविधा देने वाले इंफ्रास्ट्रक्चर भी निशाने पर आ गए।

मुख्यमंत्री की अपील का भी असर नहीं

पंजाब के मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को प्रदर्शनकारी किसानों से इस प्रकार के कार्यों से आम लोगों को असुविधा नहीं पहुंचाने की अपील की। उन्होंने किसानों से कहा कि जिस संयम के साथ वे आंदोलन करते आयें हैं, उसे बरकरार रखें। मुख्यमंत्री की यह अपील टावर एंड इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोवाडर्स एसोसिएशन (टीएआईपीए) के आग्रह पर आयी है। दूरसंचार बुनियादी ढांचा प्रदाताओं के इस पंजीकृत संघ ने राज्य सरकार से किसानों को अपनी न्याय की लड़ाई में किसी भी गैरकानूनी गतिविधि का सहारा नहीं लेने को लेकर अनुरोध करने का आग्रह किया था।

क्या कहना है रिलायंस का

रिलायंस पहले ही कह चुकी है कि किसानों की आड़ में कुछ लोग जानबूझ कर ऐसे काम कर रहे हैं जिससे जियो के कारोबार पर असर पड़े। कंपनी पहले ही दूसरी टेलीकॉम कंपनियों पर गलत प्रचार कर फायदा उठाने का भी आरोप लगा चुकी है।

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X