Friday, May 24, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. टाटा को टक्कर देने की तैयारी! मारुति सुजुकी ने कुछ कारों की सुरक्षा रेटिंग के लिए किया आवेदन

टाटा को टक्कर देने की तैयारी! मारुति सुजुकी ने कुछ कारों की सुरक्षा रेटिंग के लिए किया आवेदन

मारुति सुजुकी की ओर से भारत न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम (भारत-एनसीएपी) सुरक्षा रेटिंग के लिए आवेदन किया है। टाटा की कुछ गाड़ियों को पिछले साल इसमें 5 रेटिंग मिली थी।

Edited By: Abhinav Shalya
Published on: April 10, 2024 14:54 IST
मारुति सुजुकी- India TV Paisa
Photo:FILE मारुति सुजुकी

मारुति सुजुकी अब सुरक्षा के मामले में टाटा की कारों को टक्कर देने की तैयारी कर रही है। ऐसा इसलिए, क्योंकि कंपनी ने अपने कुछ वाहनों के लिए भारत न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम (भारत-एनसीएपी) सुरक्षा रेटिंग के लिए आवेदन किया है। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने यह जानकारी दी। बता दें, मारुति सुजुकी देश की सबसे बड़ी वाहन निर्माता कंपनी है। वित्त वर्ष 2023-24 में कंपनी ने 21.35 लाख वाहन बेचे थे, जो कि कंपनी द्वारा हासिल किया गया। अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा था। 

टाटा की सफारी और हैरियर को मिली 5 स्टार रेटिंग

टाटा मोटर्स की एसयूवी सफारी और हैरियर भारत-एनसीएपी के तहत वयस्क तथा बच्चों की सुरक्षा के लिए सुरक्षा रेटिंग पाने वाले पहले वाहन थे। इन्हें पिछले साल यह रेटिंग दी गई थी। एसयूवी को 5-स्टार रेटिंग दी गई थी। सरकार ने पिछले साल अगस्त में मोटर वाहन के लिए भारत का अपना व स्वतंत्र सुरक्षा प्रदर्शन मूल्यांकन प्रोटोकॉल ‘भारत-एनसीएपी’ पेश किया था।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने पहले कहा था कि इस प्रणाली को अनिवार्य नियमों से परे सड़क व वाहन सुरक्षा मानकों को आगे बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है। बता दें, पिछले कुछ समय में सरकार का फोकस वाहनों की सुरक्षा बढ़ाने को लेकर है। सरकार एयरबैग आदि को सुरक्षा की दृष्टि से अनिवार्य कर दिया है। 

आएगा लेन किलोमीटर 

अधिकारी ने बताया कि सरकार चालू वित्त वर्ष में राजमार्ग निर्माण माप पद्धति को ‘सड़क किलोमीटर’ से ‘लेन किलोमीटर’ में बदलने पर विचार कर रही है क्योंकि सरकार का ध्यान अब अधिक एक्सप्रेसवे बनाने पर केंद्रित हो गया है जो कम से कम चार लेन के हों। उन्होंने बताया कि वर्तमान में राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण और चौड़ीकरण की प्रगति को मापने के लिए रैखिक लंबाई पद्धति का इस्तेमाल किया जाता है।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement