Friday, June 14, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. Yes Bank का मुनाफा 123% बढ़कर ₹452 करोड़ हुआ, इन कंपनियों ने भी पेश किए नतीजे

Yes Bank का मुनाफा 123% बढ़कर ₹452 करोड़ हुआ, इन कंपनियों ने भी पेश किए नतीजे

परिचालन के मोर्चे पर, बैंक की परिचालन लागत बढ़कर ₹2,819 करोड़ हो गई, जो साल-दर-साल 27.0 प्रतिशत की वृद्धि है। Q4 के लिए परिचालन खर्च साल-दर-साल 15.5 प्रतिशत की दर से बढ़ा है। तिमाही के लिए परिचालन लाभ ₹902 करोड़ था, जो साल-दर-साल 1.5 प्रतिशत और तिमाही-दर-तिमाही 4.4 प्रतिशत अधिक था।

Edited By: Alok Kumar @alocksone
Published on: April 27, 2024 16:30 IST
Yes Bank- India TV Paisa
Photo:FILE यस बैंक

Yes Bank Q4 Results: प्राइवेट सेक्टर के बैंक यस बैंक ने विश्लेषकों के अनुमानों को गलत ठहराते हुए शानदार तिमाही परिणाम पेश किया है। यस बैंक ने वित्त वर्ष 2024 की चौथी तिमाही (Q4) के नतीजे पर नजर डालें तो बैंक का शुद्ध साल-दर-साल 123.2 प्रतिशत बढ़कर ₹452 करोड़ हो गया, जबकि Q4FY23 में ₹202.4 करोड़ था। बैंक ने गैर-ब्याज आय में मजबूत वृद्धि देखी, जिसमें Q4FY24 में 56.3 प्रतिशत साल-दर-साल और 31.3 प्रतिशत QoQ वृद्धि देखी गई है। परिचालन के मोर्चे पर, बैंक की परिचालन लागत बढ़कर ₹2,819 करोड़ हो गई, जो साल-दर-साल 27.0 प्रतिशत की वृद्धि है। Q4 के लिए परिचालन खर्च साल-दर-साल 15.5 प्रतिशत की दर से बढ़ा है। तिमाही के लिए परिचालन लाभ ₹902 करोड़ था, जो साल-दर-साल 1.5 प्रतिशत और तिमाही-दर-तिमाही 4.4 प्रतिशत अधिक था।

महिंद्रा लाइफस्पेस का लाभ घटा 

महिंद्रा समूह की रियल एस्टेट और बुनियादी ढांचा विकास इकाई महिंद्रा लाइफस्पेस डेवलपर्स लिमिटेड का एकीकृत शुद्ध लाभ बीते वित्त वर्ष (2023-24) में मामूली घटकर 97.89 लाख रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2022-23 में कंपनी का शुद्ध लाभ 101.43 करोड़ रुपये रहा था। शेयर बाजार को दी जानकारी के अनुसार, कंपनी की कुल आमदनी बीते वित्त वर्ष में घटकर 279.12 करोड़ रुपये रह गई, जो वित्त वर्ष 2022-23 में 659.56 करोड़ रुपये थी। बीते वित्त वर्ष की मार्च तिमाही में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ बढ़कर 71.15 करोड़ रुपये हो गया, जो मार्च, 2023 तिमाही में सिर्फ 55 लाख रुपये था। कंपनी की कुल आमदनी मार्च तिमाही में घटकर 54.60 करोड़ रुपये रह गई, जो मार्च, 2023 तिमाही में 270.26 करोड़ रुपये थी। 

इंडियाबुल्स रियल एस्टेट का घाटा बढ़ा 

देश की प्रमुख रियल एस्टेट डेवलपर इंडियाबुल्स रियल एस्टेट लिमिटेड (आईबीआरईएल) का एकीकृत शुद्ध घाटा बीते वित्त वर्ष में बढ़कर 1,038.65 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2022-23 में कंपनी का शुद्ध घाटा 608.38 करोड़ रुपये रहा था। आईबीआरईएल ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि बीते वित्त वर्ष में उसकी कुल आमदनी भी घटकर 468.75 करोड़ रुपये हो गई, जो वित्त वर्ष 2022-23 में 648.47 करोड़ रुपये था। कंपनी का शुद्ध घाटा मार्च तिमाही में कम होकर 302 करोड़ रुपये रहा, जो वित्त वर्ष 2022-23 की मार्च तिमाही में 375.99 करोड़ रुपये था। कंपनी की कुल आमदनी मार्च तिमाही में घटकर 39.54 करोड़ रुपये थी, जो वित्त वर्ष 2022-23 की समान तिमाही में 132.91 करोड़ रुपये थी। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Market News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement