Sunday, April 21, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. मेरा पैसा
  4. Fixed-rate FD vs floating-rate FD: एफडी कराने से पहले जान लें दोनों में कौन है ज्यादा फायदेमंद

Fixed-rate FD vs floating-rate FD: एफडी कराने से पहले जान लें दोनों में कौन है ज्यादा फायदेमंद

आपको बता दें कि फ्लोटिंग रेट एफडी के लिए रिटर्न भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की रेपो दर या ट्रेजरी बिल पर आधारित होता है। यानी रेपो रेट में बदलाव होने पर फ्लोटिंग रेट के एफडी पर ब्याज दर में बदलाव हो जाता है।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Published on: December 18, 2023 13:33 IST
FD- India TV Paisa
Photo:FILE एफडी

अगर आप फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) कराने की तैयारी में हैं तो थोड़ा ठहर जाएं। बिना सोचे-समझे किसी भी बैंक या कोई भी अवधि के एफडी कराना नुकसान का सौदा होता है। ऐसा इसलिए कि हर बैंक में एफडी पर ब्याज दर अलग-अलग है। ब्याज दर अलग-अलग अवधि पर भी भिन्न होता है। वहीं, कई बैंक फिक्स्ड रेट पर एफडी का ऑफर करते हैं। वहीं कई फ्लोटिंग रेट पर एफडी करते हैं। अब बड़ा सवाल यह है कि फिक्स्ड रेट या फ्लोटिंग रेट में एफडी कराने के लिए कौन फायदेमंद हैं। अगर आप इस कन्फ्यूजन में हैं तो हम आपकी परेशानी दूर कर रहे हैं। 

Fixed-rate FD vs floating-rate FD

आपको बता दें कि फ्लोटिंग रेट एफडी के लिए रिटर्न भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की रेपो दर या ट्रेजरी बिल पर आधारित होता है। यानी रेपो रेट में बदलाव होने पर फ्लोटिंग रेट के एफडी पर ब्याज दर में बदलाव हो जाता है। वहीं फिक्स्ड एफडी पर ब्याज की दर तय अवधि के लिए फिक्स होता है। यानी कोई बदलाव नहीं होता है। RBI ने 8 दिसंबर, 2023 को आयोजित अपनी मौद्रिक नीति बैठक में रेपो दर को 6.5 प्रतिशत पर अपरिवर्तित रखा। यह लगातार पांचवीं बार था जब केंद्रीय बैंक ने प्रमुख बेंचमार्क नीति दर को अपरिवर्तित रखने का फैसला किया है। चूंकि रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं हुआ है, तो क्या किसी को फ्लोटिंग-रेट फिक्स्ड डिपॉजिट में निवेश करना चाहिए? वित्तीय विशेषज्ञों का कहना है कि यह आपके पैसे को उच्च रिटर्न वाली एफडी में निवेश करने का सबसे अच्छा समय है।

क्या आपको फ्लोटिंग-रेट एफडी में निवेश करना चाहिए?

कुछ बैंक फ्लोटिंग-रेट एफडी बेचने की कोशिश कर रहे हैं। फाइनेंशियल एक्सपर्ट का कहना है कि निवेशकों के लिए अच्छा होगा कि वे इन एफडी में निवेश न करें, क्योंकि ब्याज दरें जल्द ही घटने की उम्मीद है। इसलिए अभी फिक्स्ड रेट एफडी में निवेश करना ज्यादा फायदेमंद है। फ्लोटिंग-रेट एफडी में तब निवेश करना चाहिए जब ब्याज दर में लगातार बढ़ने की उम्मीद हो। इससे आपको ज्यादा रिटर्न मिलने की संभावना बढ़ जाती है। 

फ्लोटिंग रेट एफडी के लाभ

  1. फ्लोटिंग रेट एफडी तक करना चाहिए जब रेपो रेट बढ़ने की संभावना हो। उस वक्त निवेशकों को ज्यादा रिटर्न मिलता है। 
  2. फ्लोटिंग रेट एफडी के लिए ब्याज का भुगतान हर तिमाही के आखिरी दिन होता है।
  3. नामांकन की सुविधा उपलब्ध
  4. वरिष्ठ नागरिकों को सामान्य ग्राहकों की तुलना में 50 आधार अंक अधिक की उच्च ब्याज दर का विशेष लाभ मिलता है।
  5. आप अपनी फ्लोटिंग रेट फिक्स्ड डिपॉजिट पर लोन का लाभ उठा सकते हैं।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Personal Finance News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement