Live TV
GO
Advertisement
Hindi News Gallery Sports gallery नेपियर वनडे: तस्वीरों में देखें कैसे...

नेपियर वनडे: तस्वीरों में देखें कैसे भारत ने न्यूजीलैंड में 9 साल बाद जीता पहला मैच, गेंदबाज रहे हीरो

  • शिखर धवन (नाबाद 75) की शानदार बल्लेबाजी के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने मैक्लीन पार्क मैदान पर बुधवार को खेले गए पहले वनडे मैच में न्यूजीलैंड को आठ विकेट से हरा दिया। इस जीत से भारत ने पांच वनडे मैचों की सीरीज में न्यूजीलैंड के खिलाफ 1-0 से बढ़त बना ली है। धवन के साथ अंबाती रायडू (13) भी नाबाद रहे। भारत 2009 के बाद न्यूजीलैंड में पहली बार कोई मैच जीतने में कामयाब रहा है।   

  • न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सभी विकेट गंवाकर 157 रनों का स्कोर खड़ा किया। इस पारी में टीम के लिए कप्तान केन विलियमसन ने सबसे अधिक 64 रन बनाए। इसके अलावा, मेजबान टीम के लिए कोई भी अन्य बल्लेबाज खास कमाल नहीं कर पाया। भारत के लिए कुलदीप यादव ने सबसे अधिक चार विकेट लिए। इसके अलावा, मोहम्मद शमी को तीन और युजवेंद्र चहल को दो विकेट मिले। केदार जाधव को एक सफलता हाथ लगी।   

  • इस मैच में शमी ने अंतर्राष्ट्रीय वनडे में सबसे तेजी से 100 विकेट पूरे करने वाले पहले भारतीय होने की उपलब्धि हासिल की। उन्होंने पूर्व खिलाड़ी इरफान पठान को पीछे छोड़ दिया है। शमी ने 56वें वनडे मैच में विकटों का शतक पूरा करने का गौरव हासिल किया, वहीं पठान को यह मुकाम 59वें वनडे मैच में हासिल हुआ।  अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शमी ने न्यूजीलैंड के गेंदबाज ट्रैंट बाउल्ट के रिकॉर्ड की बराबरी की है। उन्होंने भी 56 मैचों में 100 विकेट अपने नाम किए।   

  • न्यूजीलैंड की ओर से 158 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने 41 के स्कोर पर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (11) के रूप में अपना पहला विकेट गंवाया। उन्हें डग ब्रैसवेल ने मार्टिन गुप्टिल के हाथों कैच आउट करवाया। धवन और कप्तान विराट कोहली (45) मैदान पर मौजूद थे। हालांकि, तेज रोशनी के कारण उन्हें खेलने में परेशानी हो रही थी। इसे देखते हुए कुछ समय के लिए खेल को बीच में रोक दिया गया। करीब 30 मिनट तक खेल रुका रहा और ऐसे में डकवर्थ लुइस प्रणाली के तहत मैच को 49 ओवरों का कर दिया गया और भारत को जीत के लिए 156 रनों का लक्ष्य दिया गया।   

  • धवन ने इसके बाद कोहली के साथ दूसरे विकेट के लिए 91 रनों की साझेदारी की और टीम को 132 के स्कोर तक पहुंचाया। इसी स्कोर पर लॉकी फग्र्यूसन ने टॉम लाथम के हाथों कोहली को कैच आउट कर पवेलियन का रास्ता दिखाया। कोहली के आउट होने के बाद धवन ने रायडू के साथ 24 रन जोड़े और टीम को 156 को लक्ष्य तक पहुंचाकर दम लिया। 

  • इस मैच में धवन ने 103 गेंदों का सामना किया। उन्होंने छह चौके लगाए। इसके साथ ही उन्होंने सबसे तेजी से 5,000 वनडे रन पूरे करने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज होने का गौरव भी हासिल किया। इस सूची में कोहली पहले स्थान पर हैं।   

  • कोहली ने 114 पारियों में 5,000 वनडे पन पूरे करने की उपलब्धि अपने नाम कही, वहीं धवन ने 118 पारियों में यह मुकाम हासिल किया है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इस उपलब्धि को हासिल करने वाले बल्लेबाजों में कोहली तीसरे और धवन पांचवें स्थान पर हैं।