Live TV
GO
Advertisement
Hindi News भारत राष्ट्रीय प्रमोशन से पहले 3 साल ग्रामीण...

प्रमोशन से पहले 3 साल ग्रामीण इलाकों में सेवा करें डॉक्टर : उपराष्ट्रपति नायडू

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने शनिवार को यहां कहा कि प्रत्येक डॉक्टर को प्रमोशन से पहले कम से कम तीन साल तक ग्रामीण इलाकों में सेवा करनी चाहिए। 

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 25 Aug 2018, 19:41:45 IST

भुवनेश्वर: उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने शनिवार को यहां कहा कि प्रत्येक डॉक्टर को प्रमोशन से पहले कम से कम तीन साल तक ग्रामीण इलाकों में सेवा करनी चाहिए। बेंगलुरू स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के पहले दीक्षांत समारोह में नायडू ने कहा, "इसे प्रत्येक युवा चिकित्सक के लिए अनिवार्य किया जाना चाहिए कि उन्हें पदोन्नति से पहले कम से कम तीन साल तक ग्रामीण इलाकों में सेवा करनी होगी।"

उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य देखभाल केंद्रों में डॉक्टर्स की संख्या में वृद्धि की जरूरत है, क्योंकि योग्य चिकित्सा पेशेवरों की कमी के कारण लोगों की सोच नीम हकीम की ओर बन रही है। उन्होंने कहा, "हमें स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं की भारी कमी से पार पाने और साथ ही ग्रामीण इलाकों में बुनियादी सुविधाओं की भी जरूरत है।" नायडू ने चिकित्सका कॉलेजों की संख्या में वृद्धि की जरूरत पर भी जोर दिया।

उपराष्ट्रपति ने कहा चिकित्सा शिक्षा पाठ्यक्रम लगातार बदलता रहना चाहिए, जिसमें नई प्रगति और उपचार के तरीकों को शामिल किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, "चिकित्सकों को मरीजों व उनके परिवारों की पीड़ा के प्रति अधिक संवेदनशील होने के लिए प्रशिक्षित किया जाना चाहिए और उन्हें प्रभावी संचार के साथ दर्द हरने वाला स्पर्श मुहैया कराना चाहिए। मनुष्य के अच्छे स्वास्थ्य को बहाल करने से बड़ी कोई दूसरी सेवा नहीं है।"

नायडू ने कहा, "आयुष्मान भारत योजना या राष्ट्रीय स्वास्थ्य संरक्षण योजना जैसी योजनाएं भारत में स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच के मामले में गेम-चेंजर साबित होंगी।" इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा ने कहा कि एम्स भुवनेश्वर ने पिछले साल पांच लाख से ज्यादा मरीजों का उपचार किया था।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन