Live TV
GO
Advertisement
Hindi News भारत राष्ट्रीय चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव में चंद्रयान-2...

चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव में चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण करने की तैयारी में ISRO, चंद्रमा पर यान को 6 सितंबर को उतारे जाने की संभावना

भारत के दूसरे चंद्र मिशन चंद्रयान-2 से इतिहास रचने की कोशिश कर रहे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने शुक्रवार को कहा कि वह चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव में यान का प्रक्षेपण करने की कोशिश करेगा।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 03 May 2019, 22:11:36 IST

कन्याकुमारी (तमिलनाडु): भारत के दूसरे चंद्र मिशन चंद्रयान-2 से इतिहास रचने की कोशिश कर रहे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने शुक्रवार को कहा कि वह चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव में यान का प्रक्षेपण करने की कोशिश करेगा। गौरतलब है कि अब तक चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर किसी ने अंतरिक्ष यान उतारने की कोशिश नहीं की है।

इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने यहां बताया, ‘‘आज की तारीख तक किसी ने भी क्षेत्र में यान उतारने की कोशिश नहीं की। यह (चंद्रमा की) विषुवत रेखा के पास है। हम पहली बार चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव में यान (चंद्रयान-2) उतारने की कोशिश करेंगे।’’

Related Stories

इस हफ्ते की शुरुआत में इसरो ने कहा कि चंद्र मिशन के सभी तीन मॉड्यूल - ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) - जुलाई में निर्धारित प्रक्षेपण के लिए तैयार हो रहे हैं और लैंडर सितंबर की शुरुआत में चंद्रमा की सतह पर उतर सकता है।

सिवन ने यहां पत्रकारों को बताया कि इसरो ने जीएसएलवी मैक-3 रॉकेट के जरिए अंजाम दिए जाने वाले इस मिशन के लिए नौ जुलाई से 16 जुलाई तक का वक्त तय रखा है और चंद्रमा पर यान को छह सितंबर को उतारे जाने की संभावना है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन