Live TV
GO
Advertisement
Hindi News भारत राष्ट्रीय PNB Fraud: बैंकों में नॉनस्टॉप लूट,...

PNB Fraud: बैंकों में नॉनस्टॉप लूट, नीरव मोदी के मामा मेहुल चौकसी ने कैसे लगाया 5000 करोड़ का चूना?

पंजाब नेशनल बैंक को हज़ारों करोड़ का चूना लगाने वाले मेहुल चौकसी ने दुनिया के कोने-कोने से पैसे निकाले। 4 हज़ार 886 करोड़ 72 लाख रुपये की ये निकासी मॉरीशस, बहरीन, जर्मनी, बेल्जियम और हॉन्गकॉन्ग की बैंक शाखा से की गई।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 17 Feb 2018, 10:29:32 IST

नई दिल्ली: तीन-तीन कंपनियों गीतांजलि जेम्स, जिली इंडिया और नक्षत्र ब्रेंडस के प्रमोटर मेहुल चौकसी ने 5 देशों में जाल बिछाकर क़रीब 5000 करोड़ का फर्ज़ीवाड़ा किया। जिन बैंकों को ज़रिया बनाकर ये घोटाला किया गया उनमें बेल्जियम से लेकर मॉरीशस और बहरीन से लेकर जर्मनी तक के बैंक शामिल हैं लेकिन सबसे बड़ी घपलेबाज़ी हुई हॉन्गकॉन्ग में। ऐसा घोटाला जिस पर यक़ीन करना मुश्किल है। जिसे सुनने के बाद आप भी सोचेंगे कि कैसे मेहुल चौकसी की कंपनियां अलग-अलग बैंकों से रक़म पर रक़म निकालती रही और किसी को भनक तक नहीं लगी। एलओयू यानी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग के जरिए करोड़ों की रकम बैंकों से निकाली गई।

पीएनबी के एलओयू के जरिए गीतांजलि जेम्स ने 2 हजार 1 सौ 44 करोड़ 37 लाख रुपए, जिली इंडिया लिमिटेड ने 5 सौ 66 करोड़ 65 लाख रुपए और नक्षत्र ब्रैंड्स लिमिटेड ने 321 करोड़ 10 लाख रुपए निकाले। यानी कुल मिलाकर मेहुल चौकसी की कंपनियों ने 3 हजार 32 करोड़ 12 लाख रुपए बैंक से निकाल लिए। लेटर ऑफ अंडरटेकिंग के जरिए ये निकासी इतनी बार हुई कि आप जानकर हैरान रह जाएंगे। इससे कुल 143 बार निकासी की गई। मेहुल चौकसी की कंपनियां बिना रोक-टोक पैसे निकालती रहीं और बिना पुराना भुगतान हुए लगातार हो रही नई निकासी पर बैंक के किसी अफसर ने ब्रेक नहीं लगाया।

ये तो सिर्फ एलओयू का मामला था। अब पंजाब नेशनल बैंक से जारी लेटर ऑफ क्रेडिट के जरिए हुई लूट का हिसाब-किताब भी देख लीजिए। एलसी के जरिए गीतांजलि जेम्स ने 5 सौ 75 करोड़ 11 लाख रुपए, जिली इंडिया लिमिटेड ने 6 सौ 25 करोड़ 40 लाख रुपए और नक्षत्र ब्रैंड्स लिमिटेड ने 5 सौ 98 करोड़ 85 लाख रुपए निकाले। इस तरह लेटर ऑफ क्रेडिट के जरिए निकाली गई कुल रकम 1 हजार 8 सौ 54 करोड़ 60 लाख रुपए थी।

पंजाब नेशनल बैंक को हज़ारों करोड़ का चूना लगाने वाले मेहुल चौकसी ने दुनिया के कोने-कोने से पैसे निकाले। 4 हज़ार 886 करोड़ 72 लाख रुपये की ये निकासी मॉरीशस, बहरीन, जर्मनी, बेल्जियम और हॉन्गकॉन्ग की बैंक शाखा से की गई। हैरानी की बात ये है कि लेटर ऑफ क्रेडिट के जरिए हज़ारों करोड़ की ये निकासी महज 2 महीनों के अंदर की गई। 1 मार्च 2017 से 2 मई 2017 के बीच पैसे निकाले जाते रहे।

लेकिन 5 देशों में जिस देश में मेहुल चौकसी की कंपनीज़ ने सबसे बड़ा फर्ज़ीवाड़ा किया वो है हॉन्कॉन्ग। हॉन्गकॉन्ग के दो बैंकों के ज़रिए मेहुल चौकसी की कंपनियों ने इतने पैसे निकाले जिसे सुनकर आप भी दंग रह जाएंगे। हॉन्गकॉन्ग के एक्सिस बैंक से 20 अप्रैल 2017 को गीतांजलि जेम्स ने 147 करोड़ 63 लाख और फिर 24 अप्रैल 2017 को 128 करोड़ 4 लाख रुपए निकाले। इसके अलावा हॉन्गकॉन्ग के इलाहाबाद बैंक से भी 27 अप्रैल 2017 को गीतांजलि जेम्स ने 31 करोड़ 98 लाख और फिर 2 मई 2017 को गीतांजलि जेम्स ने हॉन्गकॉन्ग के एक्सिस बैंक से 198 करोड़ 32 लाख रुपए निकाले।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन