Live TV
GO
Advertisement
Hindi News भारत राष्ट्रीय CBI Vs Mamata: CJI गोगोई ने...

CBI Vs Mamata: CJI गोगोई ने कहा, अगर सबूत मिटाने की कोशिश की होगी तो पछताएंगे कोलकाता कमिश्‍नर

केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई और पश्चिम बंगाल की ममता सरकार के बीच रविवार शाम से शुरू हुई जंग सोमवार को सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 04 Feb 2019, 11:16:34 IST

केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई और पश्चिम बंगाल की ममता सरकार के बीच रविवार शाम से शुरू हुई जंग सोमवार को सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई। सीबीआई की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के सामने केस की मेंशनिंग पेश की। पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से अधिवक्‍ता अभिषेक मनु सिंघवी इस दौरान मौजूद रहे।

चीफ जस्टिस ने कहा अगर आप एक भी सबूत पेश करे कि कमिश्नर ने दूर से भी सबूत नष्ट करने की कोशिश की है तो हम ऐसी कार्रवाई करेंगे कि वो (कमिश्नर) पछतायेगा। इसके बाद चीफ जस्टिस ने सुनवाई कल तक के लिए टाल दी। हालांकि सॉलिसिटर जनरल ने आज ही सुनवाई की अपील करते हुए कहा कि ये बेहद असामान्य परिस्थिति है। वर्दी वाले राजनेता के साथ धरना पर बैठे है।  

सुनवाई शुरु होते ही सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता दलील देते हुए कल की घटना के बारे में कोर्ट को बताया। सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि सीबीआई के अधिकारियों के परिवार को भी बंधक बना कर रखा गया था। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने पूछा सुबह की क्या पोजिशन है और आपकी मांग क्या है। सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि सारे सबूत नष्ट हो सकते है।

 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन