Live TV
GO
Advertisement
Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थ मड थेरेपी के ये बेहतरीन फायदें...

मड थेरेपी के ये बेहतरीन फायदें नहीं जानते होगे आप, स्किन पर लगाते ही देखें कमाल

कुछ संस्कृतियों में उपचार के दौरान त्वचा के ऊपरी परत पर कीचड़ या गीली मिट्टी का लेप लगाने का चलन आम है। जानिए इसके फायदों के बारें में।

India TV Lifestyle Desk
India TV Lifestyle Desk 27 Aug 2018, 9:15:00 IST

हेल्थ डेस्क: कुछ संस्कृतियों में उपचार के दौरान त्वचा के ऊपरी परत पर कीचड़ या गीली मिट्टी का लेप लगाने का चलन आम है, और अब एक नये अध्ययन ने बताया है कि यह प्रक्रिया जख्मों में बीमारी पैदा करने वाले रोगाणुओं से लड़ने में मददगार हो सकती है।

अमेरिका के एरिजोना स्टेट यूनिवर्सिटी में अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि मिट्टी की कम से कम एक किस्म में सीआरई एवं एमआरएसए जैसी प्रतिरोधी बैक्टीरियों सहित एस्चेरीचिया कोलाई और स्टाफिलोकोकस ऑरियस बैक्टीरिया से लड़ने वाले प्रतिजैविक प्रतिरोधी (एंटीबैक्टेरियल) प्रभाव होते हैं। (रोजाना सोने से पहले सिर्फ 2 खजूर आपकी पेट की सारी बीमारी को करेंगे दूर, आजमा कर देखें )

मड कितना है फायदेमंद
कई बैक्टीरिया में उनके प्लैंक्टोनिक (प्लवक) और बायोफिल्म दोनों स्थितियों में मिट्टी का लेप प्रभावी होता है। प्लैंक्टन एक प्रकार के प्राणी या वनस्पति हैं जो आम तौर पर जल में पाये जाते हैं जबकि बायोफिल्म बैक्टीरिया में पायी जाने वाली एक तरह की जीवन शैली है। अधिकतर बैक्टीरिया बायोफिल्म नामक बहुकोशिकीय समुदाय बनाते हैं जो कोशिकाओं को पर्यावरण के खतरों से सुरक्षित रखते हैं।

अमेरिका के मायो क्लिनिक में क्लिनिकल माइक्रोबायोलॉजिस्ट रॉबिन पटेल ने कहा, ''हमने देखा कि प्रयोगशाला की स्थितियों में कम आयरन वाली मिट्टी बैक्टीरिया की कुछ किस्मों को खत्म कर सकती है। इनमें बायोफिल्म्स के तौर पर पनपे बैक्टीरिया भी हैं जिनका उपचार विशेषकर चुनौतीपूर्ण हो सकता है।''

बायोफिल्म्स तब पनपते हैं जब बैक्टीरिया सतह से जुड़ते हैं और एक फिल्मनुमा परत या संरक्षणात्मक कोटिंग बनाते हैं जो उन्हें एंटीबायोटिक दवाओं के प्रति अपेक्षाकृत प्रतिरोधक बनाता है। फिजिशियन जिन संक्रमणों के बारे में बताते हैं उनमें से दो तिहाई में ये बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। (हार्वर्ड के प्रोफेसर का दावा है कि नारियल तेल है जहर, जानिए आखिर क्या है सच?)

यह अनुसंधान इंटरनेशनल जर्नल ऑफ एंटीमाइक्रोबायल एजेंट्स में प्रकाशित हुआ है।

बहरहाल उन्होंने यह भी आगाह किया कि हर तरह की मिट्टी फायदेमंद नहीं होती है। इनमें कुछ बैक्टीरिया को पनपने में मददगार भी होती हैं।

मड थेरेपी के स्वास्थ्य लाभ

मुंहासों से दिलाएं निजात
अच्छी तरह से साफ करने वाली सॉफ्ट मड जैसे कि मुल्तानी मिट्टी का पेस्ट आपके चेहरे के लिए काफी फायदेमंद है। इसका इस्तेमाल से आपके चेहरे के पिंपल खत्म हो जाएंगे। इसके साथ ही ग्लोइंग स्किन मिलेगी।

पाचन तंत्र करे ठीक
पेट के निचले हिस्से में मड पैक लगाने से आपका पाचन तंत्र ठीक रहेगा। यह अभ्यास आंतों की गर्मी को कम करने में समर्थ सिद्ध होती है, साथ ही आंतों के क्रमाकुंचन (पेरिस्टॉसिस) आंदोलन को भी उत्तेजित करता है। इसके अलावा पेट में गैस या दर्द होने की स्थिति में राहत पाने के लिए पेट पर मड पैक लगाना फायदेमंद होगा।

Mud Therephy

कब्ज से दिलाएं राहत
अगर आपको हमेशा कब्ज की समस्या रहती है तो ऐसे में मड आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। यह मड पैक कब्ज वाली आंत रे लिए एक अद्भुत उत्तेजक का काम करता है। इसलिए नैचुरोपेथी में कब्ज से निजात पाने लिए मड पैक का यूज किया जाता है।

बुखार
बुखार से राहत पाने के लिए मड पैक को पेट के साथ माथे पर लगाया जा सकता है। मड में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होता है।

सिर दर्द और तनाव से दिलाएं निजात
मड थेरेपी सिर दर्द के लिए भी एक कारगर उपचार हो सकती है, विशेषकर गर्म और आर्द्र बाहरी वातावरण के साथ जुड़े सिर दर्द के मामले में। ऐेसे में मड पैक को माथे पर लागू करने की सलाह दी जाती है। इससे सिर की गर्मी दूर होती है और सिर दर्द और तनाव भी दूर हो जाता है।  

स्किन के लिए फायदेमंद
मिट्टी में स्वाभाविक प्रवृत्ति एंटी टॉक्सिक और ठंडा होने की वजह से होता है। ऐसे में आप साबुन की जगह मिट्टी से नहाएं चो फायदेमंद होगा। इसके साथ ही ये ट्राई स्किन से निजात दिलाता है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन