Live TV
GO
Advertisement
Hindi News खेल क्रिकेट तो क्या विश्वकप 2019 से पहले...

तो क्या विश्वकप 2019 से पहले फायदेमंद साबित हुई राहुल की ‘विवादित कॉफ़ी’, जिससे बदल गया उनकी बल्लेबाज़ी का रंग?

राहुल के नाम किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से ओपनिंग करते हुए 7 मैचों में राहुल 317 रन बना चुके हैं। जिसमे उनके नाम आईपीएल का पहला शतक भी शामिल है।

India TV Sports Desk
India TV Sports Desk 12 Apr 2019, 16:47:55 IST

सुबह का भूला अगर शाम को घर आ जाए तो उसे भूला नहीं कहते, कुछ इसी तरह की कहावत फिट बैठती है के. एल राहुल के उपर, जिन्होंने ‘कॉफ़ी विथ करण’ में विवादित कॉफ़ी पीने के बाद मैदान में शानदार वापसी की है। तमाम विवादों और अटकलों को पीछे छोड़ते हुए राहुल आईपीएल के 12वें सीजन में एक बार फिर अपने पुराने रंग में नजर आ रहे हैं। किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से ओपनिंग करते हुए 7 मैचों में राहुल 317 रन बना चुके हैं। जिसमे उनके नाम आईपीएल का पहला शतक भी शामिल है।

राहुल के विवादों का दौर 

साल 2019 की शुरुआत थी और बॉर्डर गवास्कर सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया से भारत आखिरी टेस्ट 3-7 जनवरी के बीच खेल रहा था। जबकि के. एल राहुल खराब फॉर्म के कारण टेस्ट टीम की प्लेयिंग 11 से बाहर ड्रेसिंग रूम में बैठे थे। तभी मैच के आखिरी दिन से पहले 6 जनवरी को करण जौहर का चर्चित चैट शो ‘कॉफ़ी विथ करण’ में हार्दिक पंड्या और के. एल. राहुल का ख़ास साक्षात्कार टी. वी. पर लांच होता है। जिसमें महिलाओं पर अश्लील विवादित टिप्पणियों की आग ऑस्ट्रेलिया तक पहुँचती है और हार्दिक पंड्या के साथ के.एल राहुल दोनों को आनन-फानन में ऑस्ट्रेलिया दौरा बीच में छोड़कर बीसीसीआई के कटघरे में खड़ें होना पड़ता है।

कॉफ़ी के पहले फॉर्म से जूझ रहे थे राहुल 

ऐसे में राहुल के विवादित कॉफ़ी शो से पहले के प्रदर्शन को देखा जाये तो टेस्ट, वनडे और टी-20 तीनो फॉर्मेट को मिलकर राहुल ने आईपीएल 2018 के बाद कुल 24 मैच खेलें। जिसमें उनके नाम महज़ 29.55 की खराब औसत से सिर्फ 798 रन है।

जब करियर पर मंडराएं काले बादल 

इस तरह अपने प्रदर्शन और फिर विवादित शो के कारण टीम से बाहर हुए राहुल के करियर पर कालें बादलों का साया मंडराने लगा था। इतना ही नहीं खबरों के अनुसार उन्होंने खुद को एक कमरे में कैद तक कर लिया था। खैर, समझदार उसी को कहते है जो मुश्किल के समय में भी अपने लक्ष्य पर फोकस रखता है। राहुल ने घर में भी अपने चुनिंदा दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलना जारी रखा।

द्रविड़ से मिला पूरा साथ 

जिसके बाद उन्हें इंडिया-ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ के साथ इंग्लैंड लायंस के खिलाफ सीरीज़ में खुद की काबिलियत को साबित करने का मौका मिला। द्रविड़ ने इस बल्लेबाज़ की मानसिक रूप से काफी मदद की। जिसके बारें में राहुल ने भी मीडिया से इस बात का जिक्र किया था।

इंग्लैंड लायंस के खिलाफ पलटा पासा 

राहुल ने कोच द्रविड़ के सानिध्य में मैदान में धमाकेदार वापसी की। ठीक एक महीने बाद 7 फरवरी को इंग्लैंड लायंस के खिलाफ मैदान में उतरे राहुल ने शानदार 89 रनों की पारी खेली. उसके बाद दूसरे टेस्ट मैच में भी राहुल के बल्ले से 81 रन निकलें। जिसके दमपर उन्हें दोबारा टीम इंडिया की टी-20 और वनडे टीम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विश्वकप 2019 से पहले की आखिरी घरेलू सीरिज़ में जगह मिली।

अनजाने में विवादित कॉफ़ी पीने वाले राहुल ने टीम में दोबारा चयन के बाद प्रेस वार्ता में कहा, “यह मेरे करियर के प्रति आँख खोल देने वाली घटना थी। मैंने खुद को सकरात्मक रखा और अब मैं क्रिकेट पर और ज्यादा फोकस हो गया हूँ। मुझे बाकी किसी चीज़ से कोई लेना देना नहीं है।” 

गलती से सीख कर मैदान में की वापसी 

कहते है अनजाने में की हुई गलती से भी सीख लेकर जो इंसान आगे बढ़ जाता है वो जिंदगी में कुछ भी हासिल कर सकता है। कुछ ऐसा ही राहुल के साथ इन दिनों चल रहा है। उन्होंने अपनी गलतियों से सीखा और मैदान में धमाकेदार वापसी की। जिसका नजारा ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 24 फरवरी 2019 को खेले गये पहले टी20 में देखने को मिला। इस मैच में राहुल ने ओपनिंग करते हुए शानदार अर्धशतक जड़ा। जिसके बाद उन्हें कुछ कहने की जरूरत नहीं पड़ी क्योंकि उनके बल्ले ने विवाद के बाद एक ही पारी में सब कुछ उगल दिया था। हर एक चीज़ लोगों के सामने थी कि सुबह का भुला शाम को अब टीम इंडिया के घर में वापस आ गया है। 

कॉफ़ी के बाद रंग में आये राहुल 

इस तरह राहुल के अगर कॉफ़ी विवाद के बाद प्रदर्शन पर नजर डालें तो उन्होंने 3 अन्तराष्ट्रीय मैच खेलें हैं। जिसमे 2 टी20 में उनके नाम 97 रन तो वही 1 वनडे मैच में उनके नाम 26 रन की पारी है। मगर जिस तरह से राहुल का बल्ला पिछले साल 2018 आईपीएल की तरह इस साल 2019 में भी भी रन उगल रहा है। उससे साबित होता है कि विवादित कॉफ़ी का रंग बदल चुका है और उसकी खुशबु भी आईपीएल के 12वें सीजन में राहुल के बल्ले से फ़ैल रही है। हाल ही में मुम्बई इंडियंस के खिलाफ राहुल ने आईपीएल करियर का पहला शतक जड़ा। इसके अलावा भी वो तीन से चार मैच जीताऊ पारी किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेल चुके हैं।

विश्वकप 2019 में भी होगी राहुल से आस 

ऐसे में मिशन विश्वकप 2019 के लिए टीम इंडिया में तीसरे ओपनर के रूप में देखें जा रहे राहुल के फॉर्म में आने से कप्तान विराट कोहली समेत टीम मैनेजमेंट ने राहत की सांस ली होगी। इतना ही नहीं सभी फैन्स को भी  यही उम्मीद होगी कि राहुल अपनी शानदार फॉर्म को आईपीएल ही नहीं बल्कि विश्वकप 2019 में भी जारी रखें और टीम इंडिया को कप दिलाने में अहम भूमिका निभाएं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन