1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. Honda Cars ने उत्‍तर प्रदेश सरकार को दिया झटका, ग्रेटर नोएडा संयंत्र में बंद किया कारों का उत्पादन

Honda Cars ने उत्‍तर प्रदेश सरकार को दिया झटका, ग्रेटर नोएडा संयंत्र में बंद किया कारों का उत्पादन

कंपनी ग्रेटर नोएडा संयंत्र में इंजन का भी उत्पादन करती है, जिनका अन्य देशों को निर्यात किया जाता है। एचसीआईएल ने नवंबर में 9,990 यूनटि बिक्री दर्ज की है, जो नवंबर, 2019 की 6,459 यूनिट बिक्री की तुलना में 55 प्रतिशत अधिक है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: December 21, 2020 9:25 IST
Honda stops production at Greater Noida facility- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Honda stops production at Greater Noida facility

नई दिल्‍ली। होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (Honda Cars India Ltd: HCIL) ने उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा स्थित अपने संयंत्र में उत्पादन रोक दिया है। जापान की होंडा मोटर कंपनी के पूर्ण स्वामित्व वाले इस संयंत्र की स्थापना 1997 में की गई थी। उद्योग से जुड़े सूत्रों ने बताया कि कंपनी ने अपनी कारों का उत्पादन यहां भले रोक दिया है, लेकिन उसका कॉरपोरेट मुख्यालय, कलपुर्जा विभाग और शोध एवं विकास (आरएंडडी) विभाग समेत अन्य कामकाज होता रहेगा। हालांकि उत्पादन रोके जाने को लेकर कंपनी ने इस पर तत्काल कोई टिप्पणी नहीं की है।

सूत्रों ने कहा कि फिलहाल कंपनी अपनी संपूर्ण वाहन श्रृंखला के लिए राजस्थान के टपूकड़ा संयंत्र पर निर्भर करेगी। होंडा कार्स ने इस साल की शुरुआत में इस संयंत्र से जुड़े लोगों के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) पेश की थी, ताकि संयंत्र की उत्पादकता और क्षमता बढ़ाई जा सके। ग्रेटर नोएडा संयंत्र में कंपनी सिटी, सीआर-वी और सिविक मॉडल का उत्पादन करती है। यहां सालाना एक लाख वाहन का उत्पादन हो सकता है। टपूकड़ा संयंत्र की क्षमता 1.

8 लाख वाहन सालाना है।

कंपनी ग्रेटर नोएडा संयंत्र में इंजन का भी उत्‍पादन करती है, जिनका अन्‍य देशों को निर्यात किया जाता है। एचसीआईएल ने नवंबर में 9,990 यूनटि बिक्री दर्ज की है, जो नवंबर, 2019 की 6,459 यूनिट बिक्री की तुलना में 55 प्रतिशत अधिक है।

जनवरी से वाहनों के दाम बढ़ाएगी कंपनी

जापान की वाहन कंपनी होंडा की अगले महीने से वाहनों के दाम बढ़ाने की योजना है। कंपनी के डीलरों को इस बारे में सूचना दे दी गई है। वाहन कंपनी भारत में पूर्ण अनुषंगी होंडा कार्स इंडिया लि.(एचसीआईएल) के जरिये काम कर रही है। कंपनी कॉम्‍पैक्‍ट सेडान अमेज से लेकर महंगी एसयूवी सीआर-वी बेचती है। अमेज की शुरूआती कीमत 6.17 लाख रुपये, जबकि सीआरवी की 28.71 लाख (एक्स शोरूम) रुपये है। कंपनी के एक डीलर ने इसकी पुष्टि की है और कहा कि वह जनवरी से वाहनों के दाम बढ़ा रही है। इसका कारण कच्चे माल की लागत और मुद्रा प्रभाव है।

डीलर के अनुसार वाहनों के मॉडल के हिसाब से दाम के बारे में सूचना कंपनी जनवरी की शुरुआत में देगी। इस बारे में संपर्क किए जाने पर कंपनी के प्रवक्ता ने इसकी पुष्टि की। लेकिन इसके बारे में कोई और जानकारी नहीं दी। कई वाहन कंपनियां पहले ही अगले महीने से विभिन्न मॉडल के दाम बढ़ाने की घोषणा कर चुकी हैं। पिछले सप्ताह रेनो इंडिया ने कहा कि वह जनवरी से सभी मॉडल के दाम में 28,000 रुपये तक की वृद्धि करेगी। इसके अलावा, मारुति सुजुकी, फोर्ड इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा पहले ही कह चुकी है कि वे कच्चे माल और अन्य जिंसों की बढ़ी हुई लागत को कम करने के लिए अपने वाहनों के दाम जनवरी से बढ़ाएंगी। दो पहिया वाहन कंपनी हीरो मोटो कॉर्प ने भी कच्चे माल की बढ़ी हुई लागत की भरपाई के लिए अपने वाहनों के दाम में एक जनवरी, 2021 से 1,500 रुपये तक की वृद्धि की घोषणा की है। 

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X