1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. एक बार फिर मारुति ने हजारों गाड़ियों को बाजार से मंगाया वापस, आखिर बार-बार ऐसा करने पर क्यों मजबूर है कंपनी?

एक बार फिर मारुति ने हजारों गाड़ियों को बाजार से मंगाया वापस, आखिर बार-बार ऐसा करने पर क्यों मजबूर है कंपनी?

अगर आप ने भी हाल ही में मारुति की कारें खरीदी हैं तो आपके लिए यह बहुत जरूरी खबर है। कंपनी ने एक बार फिर 11,177 गाड़ियों को वापस मंगाने का ऐलान किया है। आइए जानते हैं कि कंपनी को ऐसा बार-बार क्यों करना पड़ रहा है?

Vikash Tiwary Edited By: Vikash Tiwary @ivikashtiwary
Updated on: January 23, 2023 21:06 IST
grand Vitara were recalled by Maruti suzuki - India TV Hindi
Photo:FILE पहले 17,000 फिर 11,177 कारों को मारुति ने मंगाया वापस

Maruti Suzuki: मारुति भारत में सबसे अधिक फेमस कार कंपनियों में से एक है, लेकिन पिछले कुछ दिनों से जैसे मारुति बार-बार अपनी गाड़ियों को वापस मंगा रही है। उसे लेकर कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। मारुति खरीदने वालों की चिंता बढ़ती जा रही है कि कही अगला नंबर उनकी गाड़ियों का ना हो। हर बार वापस मंगाने के साथ कंपनी एक कारण बता देती है। बता दें इससे पहले कंपनी ने 17,000 कारों को वापस बुलाने का फैसला लिया था। उस वक्त एक अन्य समस्या बताई गई थी। आज जो आदेश आया है उसमें कार में अलग तरह की खामियां बताई गई है। मारुति सुजुकी के मुताबिक, उसने एसयूवी मॉडल ग्रैंड विटारा की 11,177 इकाइयों को वापस मंगाने की घोषणा की है। 

कंपनी ने ऐसा करने के पीछे की वजह बताई

कंपनी ने सोमवार को शेयर बाजारों को इसकी सूचना देते हुए कहा कि पिछली सीट की बेल्ट में कुछ तकनीकी खामी को दूर करने के लिए इन वाहनों को वापस मंगाने का फैसला किया गया है। प्रभावित इकाइयों का मैन्युफैक्चरिंग आठ अगस्त 2022 से 15 नवंबर, 2022 के बीच हुआ था। ऐसी आशंका है कि ग्रैंड विटारा की इन इकाइयों के रियर सीट बेल्ट के ब्रैकेट आगे चलकर ढीले हो सकते हैं। इसी खामी को दूर करने के लिए इन वाहनों को वापस मंगाकर दुरुस्त किया जाएगा। इस बारे में कंपनी की तरफ से वाहन मालिकों को अधिकृत डीलर वर्कशॉप पर लाने के बारे में सूचना दी जाएगी। वहां पर प्रभावित हिस्से का मुआयना कर निःशुल्क उसे बदल दिया जाएगा। मारुति ने पिछले हफ्ते भी अपने कुछ अन्य मॉडलों की 17,362 इकाइयों को वापस मंगाने की घोषणा की थी। आठ दिसंबर, 2022 से 12 जनवरी, 2023 के बीच बने इन वाहनों के एयरबैग कंट्रोलर को बदला जाएगा। इन कारों में कंपनी की मशहूर कारें जैसे अल्टो, ब्रेजा से लेकर हाल में लॉन्च हुई ग्रांड विटारा भी शामिल है। 

कारें न चलाएं ग्राहक

मारुति ने चेतावनी देते हुए ग्राहकों से गुजारिश की है कि संदिग्ध वाहनों के ग्राहकों को सलाह दी जाती है कि जब तक प्रभावित हिस्से को बदल नहीं दिया जाता है, तब तक वाहन न चलाएं या इसका इस्तेमाल न करें। कंपनी ने कहा कि प्रभावित वाहन मालिकों को तत्काल ध्यान देने के लिए मारुति सुजुकी अधिकृत वर्कशॉप से संचार प्राप्त होगा। मारुति सुजुकी इंडिया ने पिछले हफ्ते कहा था कि वह खराब एयरबैग नियंत्रक की जांच करने और उसे बदलने के लिए ऑल्टो के10, ब्रेजा और बलेनो जैसे मॉडलों की 17,362 इकाइयों को वापस बुला रही है। देश के सबसे बड़े कार निर्माता ने एक एक्सचेंज को दी जानकारी में कहा कि प्रभावित मॉडल अल्टो के10, एस-प्रेसो, ईको, ब्रेज़ा, बलेनो और ग्रैंड विटारा हैं, जो 8 दिसंबर, 2022 और 12 जनवरी, 2023 के बीच निर्मित हुए हैं।

क्या आई खराबी

इसमें कहा गया है, "इन वाहनों में जरूरत पड़ने पर मुफ्त में एयरबैग कंट्रोलर का निरीक्षण करने और बदलने के लिए रिकॉल किया जा रहा है।"ऑटो प्रमुख ने कहा कि यह संदेह है कि प्रभावित हिस्से में एक संभावित दोष है, जिसके परिणामस्वरूप दुर्लभ मामलों में वाहन दुर्घटना की स्थिति में एयरबैग और सीट बेल्ट प्रेटेंसर की तैनाती नहीं हो सकती है।

Latest Business News