Friday, July 19, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. चीन ने पहली तिमाही में पैदा किए 33.4 लाख रोजगार, अचल संपत्ति निवेश में 9.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी

चीन ने पहली तिमाही में पैदा किए 33.4 लाख रोजगार, अचल संपत्ति निवेश में 9.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी

चीन ने 2017 की पहली तिमाही में 33.4 लाख नए रोजगार पैदा किए हैं। नेशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स के मुताबिक यह पिछले साल के मुकाबले 1,60,000 अधिक है।

Dharmender Chaudhary
Published on: April 17, 2017 15:29 IST
चीन ने पहली तिमाही में पैदा किए 33.4 लाख रोजगार, अचल संपत्ति निवेश में 9.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी- India TV Paisa
चीन ने पहली तिमाही में पैदा किए 33.4 लाख रोजगार, अचल संपत्ति निवेश में 9.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी

बीजिंग। चीन ने 2017 की पहली तिमाही में 33.4 लाख नए रोजगार पैदा किए हैं। नेशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स के प्रवक्ता माओ शेंगयोंग ने सोमवार को एक प्रेस सम्मेलन में कहा, “यह आंकड़ा पिछले वर्ष इसी अवधि की तुलना में 1,60,000 अधिक है।”

माओ के अनुसार, चीन की रोजगार की स्थिति इस साल की पहली तिमाही में आम तौर पर अच्छी रही है। 31 मार्च के अंत तक चीन के 31 प्रमुख शहरों में बेरोजगारी दर 5 प्रतिशत से कम दर्ज की गई। उन्होंने कहा, “इस बीच वर्ष के पहले दो महीनों में ग्रामीण क्षेत्रों के अधिक श्रमिकों ने शहरी क्षेत्रों में नौकरी हासिल की, जिसमें सालाना आधार पर 2.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई।”

इस वर्ष की सरकारी कार्य रिपोर्ट के मुताबिक, चीन का इस वर्ष 1.1 करोड़ से अधिक नौकरियों के सृजन का लक्ष्य है, जो पिछले साल के लक्ष्य से 10 लाख से अधिक है।

अचल संपत्ति निवेश में तेजी

चीन के अचल संपत्ति निवेश में 2017 के प्रथम तीन महीनों में सालाना आधार पर 9.2 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। चीन के नेशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स (एनबीएस) ने सोमवार को कहा कि यह प्रथम दो महीनों की 8.9 प्रतिशत वृद्धि से तेजी से बढ़कर 9.2 प्रतिशत हो गई है।

प्रथम तिमाही में 6.9 प्रतिशत आर्थिक वृद्धि दर

चीन की अर्थव्यवस्था में पहली तिमाही में 6.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो (एनबीएस) द्वारा सोमवार को जारी आंकड़ों में यह बात कही गई है। समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, जनवरी से मार्च 2017 के बीच चीन का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 26.2 खरब डॉलर रहा।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement