1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सिक्योरिटी मार्केट में निवेशकों के लिए एक चार्टर तैयार करने का काम जारी: सेबी प्रमुख

सिक्योरिटी मार्केट में निवेशकों के लिए एक चार्टर तैयार करने का काम जारी: सेबी प्रमुख

निवेशकों को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट 2021-22 में वित्तीय निवेशकों के लिए एक निवेशक चार्टर पेश करने का प्रस्ताव रखा था।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: August 04, 2021 17:58 IST
निवेशकों के लिये...- India TV Hindi
Photo:FILE

निवेशकों के लिये चार्टर पर काम जारी; सेबी

नई दिल्ली। पूंजी बाजार नियामक सेबी ने कहा कि निवेश प्रक्रिया में अधिक पारदर्शिता लाने के लिये सिक्योरिटीज मार्केट  में निवेशकों के लिए एक चार्टर तैयार करने पर काम जारी है। चार्टर निवेशकों के अधिकारों और जिम्मेदारियों तथा शिकायत निवारण तंत्र पर भी ध्यान केंद्रित करेगा। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के अध्यक्ष अजय त्यागी ने नियामक की वार्षिक रिपोर्ट 2020-21 में कहा, ‘‘केंद्रीय बजट 2021-22 में घोषित निवेशक चार्टर को तैयार करने का काम जारी हैं।’’ रिपोर्ट के मुताबिक सेबी के लिए एक चार्टर और बाजार नियामक द्वारा विनियमित संस्थाओं के लिए अलग चार्टर का प्रस्ताव किया गया है। इसके साथ ही चार्टर में निवेशक संबंधी विभिन्न गतिविधियों के लिए समय-सीमा निर्धारित करने का प्रस्ताव किया गया है। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि निवेशक चार्टर न केवल निवेश प्रक्रिया में अधिक पारदर्शिता लाने में मदद करेगा, बल्कि बाजार में निवेशकों को बेहतर ज्ञान के साथ निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करेगा। निवेशकों को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट 2021-22 में वित्तीय निवेशकों के लिए एक निवेशक चार्टर पेश करने का प्रस्ताव रखा था। इसके साथ ही निवेशकों के लिये नये प्रोडक्ट और प्लेटफॉर्म को लॉन्च भी आगे जारी रखने की भी बात सेबी अध्यक्ष ने कही है। उनके मुताबिक गोल्ड स्पॉट एक्सचेंज, सोशियल स्टॉक एक्सचेंज, रियल इस्टेट इनवेस्टमेंट ट्रस्ट और इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट ट्रस्ट. पैसिव फंड्स का विकास जैसे क्षेत्रों में भी सेबी कार्य कर रही है। 

सेबी के प्रमुख ने कहा कि साल 2021 में स्टॉक मार्केट के प्रदर्शन से सिक्योरिटी मार्केट की क्षमता और उसका भारत की अर्थव्यवस्था में योगदान का  पता चलता है। मार्च 2021 तक भारतीय शेयर बाजार का बाजार मूल्य जीडीपी के 103 प्रतिशत के बराबर था। उनके मुताबिक भले ही अर्थव्यवस्था दबाव मे हो, लेकिन बाजार के जरिये कंपनियां काफी फंड जुटाने में सफल रही हैं। अभी तक आये सभी आईपीओ को अच्छा रिस्पॉन्स मिला है।

Latest Business News