1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. अंडों की कीमतों में भारी गिरावट, बर्ड फ्लू की वजह से कई जगह पर 100 रुपए तक घट गई कीमतें

अंडों की कीमतों में भारी गिरावट, बर्ड फ्लू की वजह से कई जगह पर 100 रुपए तक घट गई कीमतें

कोरोना के बाद चिकन और अंडे का बाजार अभी संभल ही रहा था कि इस बीच बर्ड फ्लू ने अंडे और चिकन का व्यापार करने वाले व्यापारियों की चिंताएं बढ़ा दी हैं। 

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: January 08, 2021 19:53 IST
Egg Price Delhi Mumbai Kolkata Lucknow Patna Bhopal Kanpur Raipur after Bird Flu- India TV Paisa
Photo:PTI

Egg Price Delhi Mumbai Kolkata Lucknow Patna Bhopal Kanpur Raipur after Bird Flu

नई दिल्ली। देश के अलग-अलग कई राज्यों में बर्ड फ्लू के मामले बढ़ने के बाद से अंडे और चिकन की बिक्री में खासी गिरावट देखने को मिल रही है। बर्ड फ्लू के चक्कर में हो रहे नुकसान को लेकर अंडे और चिकन का व्यापार करने वाले व्यापारियों का कहना है कि सर्दियों में अंडे और चिकन की खपत बढ़ जाती है लेकिन इस बार लोगों पर पड़े मानसिक असर के कारण लोगों ने अंडे और चिकन खाना कम कर दिया है। कोरोना के बाद चिकन और अंडे का बाजार अभी संभल ही रहा था कि इस बीच बर्ड फ्लू ने संकट बढ़ा दिया है। 

100 रुपए प्रति सैकड़ा से ज्यादा घटे अंडे के दाम

दिल्ली में जहां 1 जनवरी 2021 को अंडे के दाम रुपए प्रति सैकड़ा 600 था वहीं 8 जनवरी को इसका दाम 525 रुपए प्रति सैकड़ा हो गया है। एक सप्ताह के अंदर ही अंडे के दामों में राजधानी दिल्ली में 75 रुपए से ज्यादा की कमी देखने को मिली है। वहीं उत्तर प्रदेश के कानपुर में 1 जनवरी 2021 को अंडे के दाम 581 रुपए प्रति सैकड़ा था जबकि 8 जनवरी 2021 को इसके दाम 443 रुपए प्रति सैकड़ा रहे। यानि कानपुर में एक सप्ताह में अंडे के दाम 138 रुपए प्रति सैकड़ा घटे हैं। यूपी की राजधानी लखनऊ में एक हफ्ते के अंदर अंडे के दाम 83 रुपए प्रति सैकड़ा घटे हैं। वहीं बिहार की राजधानी पटना में एक सप्ताह के अंदर अंडे के दाम 74 रुपए प्रति सैकड़ा घटे हैं। आप भी जानिए अपने शहर में अंडे और चिकन के दाम में कितनी गिरावट आयी है।

अंडों के दाम रुपए प्रति सैकड़ा के हिसाब से
शहर 1 जनवरी 2021 8 जनवरी 2021
दिल्ली 600  525
चेन्नई 520 510
मुंबई 545 545
कोलकाता 568 520
पटना 598 524
लखनऊ 633 550
भोपाल 555  485
कानपुर 581 443
रायपुर 550  495

दिल्ली के दुकानदार बोले, बर्ड फ्लू के कारण मुर्गे की बिक्री में ‘‘खासी गिरावट’’

दिल्ली में पोल्ट्री मांस बेच रहे दुकानदारों ने दावा किया है कि बर्ड फ्लू के बढ़ते खतरे के मद्देनजर पिछले कुछ सप्ताह में बिक्री में ‘‘खासी गिरावट’’ आई है। दिल्ली मांस व्यापारी संघ के महासचिव इरशाद कुरैशी ने कहा, ‘‘बर्ड फ्लू फैलने संबंधी खबरें आने के बाद, मुर्गे की बिक्री कम से कम 20 प्रतिशत कम हो गई है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम इस बात को समझते हैं कि ग्राहक घबरा जाते हैं और सावधानी के तौर पर मुर्गों की खरीदारी बंद कर देते हैं, लेकिन यह जानना महत्वपूर्ण है कि यदि मांस को अच्छे से पकाया जाए, तो स्वास्थ्य को कोई खतरा नहीं होता।’’ 

मुर्गे का मांस के दाम में आयी भारी कमी 

कुरैशी ने कहा कि मुर्गे का मांस ‘‘200 रुपए प्रति किलोग्राम से गिरकर 150 रुपए प्रति किलोग्राम हो गया है, जो पोल्ट्री किसानों के साथ-साथ दुकानदारों का भी नुकसान’’ है। उन्होंने कहा कि बर्ड फ्लू के खतरे का कारोबार पर ऐसे समय में असर पड़ रहा है, जब कारोबारी पहले की कोविड-19 के प्रभाव से जूझ रहा है। कुरैशी ने अपने ग्राहकों को आश्वस्त करते हुए कहा कि दिल्ली मांस व्यापारी संघ ने अपनी ‘‘6,000 लाइसेंसधारी मांस की दुकानों’’ को नए दिशा-निर्देश भेजे हैं ताकि स्वच्छता सुनिश्चित की जा सके। 

जानिए क्या होता है बर्ड फ्लू

बर्ड फ्लू कई तरह के होते हैं लेकिन एच-5एन-1 एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस है जो इंसानों को संक्रमित करता है। बर्ड फ्लू प्रवासी जलीय पक्षियों खासतौर से जंगली बतख से फैलता है। ये पालतू मुर्गियों में आसानी से फैल जाता है। ये बीमारी संक्रमित पक्षी के मल, नाक के स्राव, मुंह के लार या आंखों से निकलने वाली पानी के संपर्क में आने से होती है। संक्रमित पक्षियों के संपर्क में आने वाले जानवर और इंसान इस वायरस से आसानी से संक्रमित हो जाते हैं।

जानिए बर्ड फ्लू के लक्षण

पूरी तरह से सांस न ले पाना, खांसी की दिक्कत होना, कफ का बनना और जमा होना, सिर मे दर्द बने रहना, उल्टी का एहसास होना, बुखार आने के साथ शरीर अकड़ना, शरीर में दर्द बने रहना, थोड़ा काम करने पर थकान आ जाना, पेट में दर्द होना आदि हैं।

बर्ड फ्लू से ऐसे करें बचाव

घर में पालतू पक्षियों को न रखें। मौजूदा समय में खुले बाजार या छोटी जगहों से मांस की खरीदारी न करें। संक्रमण से बचने के लिए हाथों को लगातार धोते और सेनेटाइज करते रहें।पक्षियों के संपर्क में आने से बचें। बर्ड फ्लू वायरस का प्रभाव दिखने पर 48 घंटे के अंदर डाक्टरी सलाह पर तुरंत दवा लें।

Write a comment
bigg boss 15