1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. कोरोना वैक्सीनेशन में बैंक कर्मियों को मिल सकती है प्राथमिकता, वित्त मंत्रालय ने किया आग्रह

कोरोना वैक्सीनेशन में बैंक कर्मियों को मिल सकती है प्राथमिकता, वित्त मंत्रालय ने किया आग्रह

भारत में प्रतिदिन कोविड-19 रोधी टीके की औसतन 34,30,502 खुराकें दी जा रही हैं, जिसके साथ ही देश रोजाना लगाए जाने वाले टीकों की संख्या के मामले में दुनियाभर में पहले स्थान पर पहुंच गया है। अब तक 13,77,304 सत्रों में कुल 9,01,98,673 टीके लगाए जा चुके हैं।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: April 08, 2021 21:30 IST
वैक्सीनेशन में बैंक...- India TV Hindi News
Photo:PTI

वैक्सीनेशन में बैंक कर्मियो को मिल सकती है प्राथमिकता

नई दिल्ली। केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने स्वास्थ्य और गृह मंत्रालय से बैंकों और नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) के कर्मचारियों को प्राथमिक आधार पर कोविड-टीका दिलाये जाने का निर्देश देने का आग्रह किया है। मंत्रलय ने हाल में भेजे पत्र में कहा कि इससे बैंक कर्मचारी अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा के बारे में आश्वस्त हो सकेंगे। साथ ही इस कठिन समय में जब कई राज्यों में कोरोना के फिर से नये मामले तेजी से आ रहे हैं, ग्राहकों को अपनी सेवाएं प्रदान करने के लिए उनके मनोबल को बढ़ावा मिलेगा।

भारतीय बैंक संघ (आईबीए) के आंकड़े के अनुसार बैंक कर्मचारियों की कुल संख्या 13.5 लाख है। इसमें से करीब 600 कर्मचारियों की दुर्भाग्यपूर्ण मौत कोविड-19 के कारण हुई है। प्रतिशत के हिसाब से यह कुल कर्मचारियों का 0.04 प्रतिशत है।

वित्त विभाग ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय तथा गृह मंत्रालय को भेजे पत्र में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत लाभ वितरण और निकासी को सुलभ बनाने में बैंक कर्मियों की महत्वपूर्ण भूमिका पर जोर दिया है। इसी प्रकार, डिजिटल माध्यम से भुगतान पर भरोसा बढ़ा है और एनपीसीआई के कर्मचारियों ने निर्बाध सेवा के लिये महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। उल्लेखनीय है कि पिछले महीने आईबीए ने स्वास्थ्य मंत्रालय को पत्र लिखकर बैंक कर्मचारियों की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करते हुए टीकाकरण में प्राथमिकता के आधार पर उन्हें शामिल करने का आग्रह किया था।

वहीं देश में तेजी से बढ़ते कोरोना के ताजा मामलों पर चिंता जताते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए फिर से युद्ध स्तर पर काम करना आवश्यक है। प्रधानमंत्री ने राज्यों से निषिद्ध क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करने और जांच में तेजी लाने को कहा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को बताया कि देश में एक सप्ताह में कोरोना वायरस संक्रमण की दर मार्च और अप्रैल के शुरुआती सात दिनों की क्रमश: 2.19 से 6.21 प्रतिशत बढ़कर 8.40 प्रतिशत हो गई है। भारत में प्रतिदिन कोविड-19 रोधी टीके की औसतन 34,30,502 खुराकें दी जा रही हैं, जिसके साथ ही देश रोजाना लगाए जाने वाले टीकों की संख्या के मामले में दुनियाभर में पहले स्थान पर पहुंच गया है। अब तक 13,77,304 सत्रों में कुल 9,01,98,673 टीके लगाए जा चुके हैं। 

यह भी पढ़ें:  गांवों में खत्म होंगे जमीनी विवाद, 24 अप्रैल से देश भर में शुरू होगी स्वामित्व योजना

यह भी पढ़ें:  आधार का हुआ है गलत इस्तेमाल? इस आसान तरीके से करें चेक

Latest Business News

Write a comment
>independence-day-2022