1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के चालान से बचने का तरीका, बस करना होगा यह काम

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के चालान से बचने का तरीका, बस करना होगा यह काम

परिवहन विभाग ने इस विषय में जानकारी देते हुए कहा, "हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाने के लिए दिल्ली में 658 केंद्र बनाए गए हैं। इसके अलावा दिल्ली की 517 कॉलोनियों में भी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाने की सुविधा उपलब्ध है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: December 21, 2020 22:28 IST
हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के चालान से बचने का तरीका, बस करना होगा यह काम- India TV Paisa

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के चालान से बचने का तरीका, बस करना होगा यह काम

नई दिल्ली | ऐसे वाहन जिनपर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (एचएसआरपी) और कलर कोडेड स्टीकर नहीं लगे हैं, उनका 5500 रुपये तक का चालान किया जा रहा है। दिल्ली में अब तक लगभग 1000 लोगों का चालान किया जा चुका है। हालांकि चालान करने से अधिक दिल्ली सरकार लोगों को हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगाने के लिए प्रोत्साहित कर रही है। परिवहन विभाग ने इस विषय में जानकारी देते हुए कहा, "हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाने के लिए दिल्ली में 658 केंद्र बनाए गए हैं। इसके अलावा दिल्ली की 517 कॉलोनियों में भी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाने की सुविधा उपलब्ध है। होम डिलीवरी के लिए इसकी वेबसाइट पर आवेदन किया जा सकता है। होम डिलीवरी में कार के लिए 250 रुपये व टू व्हीलर के लिए 125 रुपये अतिरक्त देने होंगे। मात्र बुकिंग की रसीद दिखाने पर भी आपका चालान नहीं किया जाएगा।"

दिल्ली में फिलहाल नई नंबर प्लेट को लेकर बेहद कम चालान किए जा रहे हैं। इस पर भी अभी तक सिर्फ चार पहिया वाहनों के ही चालान काटे गए हैं। दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग के मुताबिक वाहन चालक किसी भी डीलर के पास जाकर अथवा घर बैठे ही ऑनलाइन, हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट की बुकिंग करा सकते हैं। बुकिंग की पर्ची हासिल कर लेने के बाद वाहन चालकों के खिलाफ कोई कार्रवाई या चालान नहीं किया जाएगा।

दिल्ली सरकार ने 1 नवंबर से हाई-सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और कलर-कोडेड स्टिकर के लिए ऑनलाइन बुकिंग फिर से शुरू कर दी है। इसके के लिए राज्य सरकार द्वारा अधिकृत किसी भी वाहन डीलर से भी संपर्क किया जा सकता है। कार के लिए एचएसआरपी का शुल्क 600-1100 रुपये है। दोपहिया वाहनों के लिए 300-400 रुपये फीस है। वहीं रंगीन स्टीकर के लिए 100 रुपये का शुल्क लगाया गया है।

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट

Image Source : FILE
हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट

इस विषय पर दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत जनता की शिकायतों को दूर करने के लिए सभी हितधारकों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक कर चुके हैं। इस बैठक में परिवहन विभाग, राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अन्य हितधारकों जैसे मूल उपकरण निर्माता (ओईएम), सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स और उच्च सुरक्षा पंजीकरण प्लेट (एचएसआरपी) निमार्ताओं ने भी भाग लिया।

बैठक के दौरान परिवहन मंत्री ने वाहन मालिकों द्वारा अपने वाहन पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (एसएसआरपी) फिट करने के संबंध में आने वाली समस्याओं पर चर्चा की। उन्होंने वाहन निमार्ताओं की शिकायतों के समाधान के लिए ओईएम निमार्ताओं को एक सिस्टम बनाने का निर्देश दिया।

ऐसे जानें अपने राज्य की एचएसआरपी वेबसाइट

सबसे पहले ये पता होना जरूरी है कि आखिर आवेदन करना कहां है। अलग-अलग राज्य के लिए एचआरएसपी वेबसाइट अलग-अलग है। आपके राज्य की एचएसआरपी वेबसाइट क्या है, इसके बारे में अपने राज्य की वेबसाइट पर आपको अपने राज्य की एचएसआरपी वेबसाइट का लिंक मिल जाएगा। या फिर आप हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट्स कस्टमर केयर नंबर 011-47504750 पर फोन कर के भी इसकी जानकारी ले सकते हैं। आप चाहे तो hsrp.customercare@gmail.com,jdadmntpt@hub.nic.in या protpt@hub.nic.in पर ईमेल कर के भी पता कर सकते हैं आपके राज्य की एचएसआरपी वेबसाइट का लिंक क्या है।

ऐसे करें हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के लिए आवेदन

1. HSRP प्लेट की ऑनलाइन बुकिंग करनी है तो आप www.bookmyhsrp.com पर जाकर बुकिंग कर सकते हैं।

2. इसके बाद वाहनों की पूरी सीरीज खुलेगी, इसमें टू-व्हीलर, थ्री व्हीलर, फोर व्हीलर, भारी वाहन के विकल्प मिलेंगे, इनमें से किसी एक को चुनिए।

3. फिर आपकी गाड़ी किस कंपनी की है उसका चयन करना होगा, इसकी पूरी लिस्ट होगी, जैसे Maruti, Hyundai या Tata के विकल्प होंगे।
4. गाड़ी की कंपनी का नाम चुनते ही ये आपसे राज्य पूछेगा, उदाहरण के लिए DL यानी दिल्ली और UP यानी उत्तर प्रदेश।
5. फिर आपको प्राइवेट वाहन और कमर्शियल वाहन के 2 विकल्प दिखाई देंगे।
6. प्राइवेट व्हीकल टैब पर क्लिक करने पर पेट्रोल, डीजल, इलेक्ट्रिक, CNG और CNG+पेट्रोल के विकल्प मिलेंगे, इनमें से किसी एक को चुन लीजिए। 
7. इसके बाद आप से गाड़ी की पूरी जानकारी मांगी जाएगी, जैसे BS कौन-सा है, रजिस्ट्रेशन की तारीख, रजिस्ट्रेशन नंबर, चेसिस नंबर, इंजन नंबर, कार मालिक का नाम, ई-मेल आईडी, मोबाइल नंबर, बिलिंग पता, शहर, अगर GST है तो दें।
8. यह सब जानकारी अपलोड करने पर एक नई विंडो खुलेगी, इसमें गाड़ी की RC और आईडी प्रूफ अपलोड करना होगा।
9. सारी जानकारी और कागजात अपलोड करने के बाद मोबाइल फोन पर OTP जेनरेट हो जाएगा।
10. सबसे आखिरी में पेमेंट का विकल्प आएगा, पेमेंट करते ही ऑनलाइन बुकिंग की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
इतना लगेगा चार्ज

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X