1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दुनिया भर में भारत सरकार ने सबसे ज्यादा मांगी ट्विटर खातों की जानकारी, कंपनी ने पेश किए जुलाई-दिसंबर 2020 के आंकड़े

दुनिया भर में भारत सरकार ने सबसे ज्यादा मांगी ट्विटर खातों की जानकारी, कंपनी ने पेश किए जुलाई-दिसंबर 2020 के आंकड़े

माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर ने बताया है कि जुलाई-दिसंबर 2020 की अवधि में दु​निया में सबसे अधिक ट्विटर खातों की जानकारी भारत सरकार द्वारा मांगी गई।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 15, 2021 10:33 IST
Twitter- India TV Paisa
Photo:AP

Twitter

नयी दिल्ली। माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर ने बताया है कि जुलाई-दिसंबर 2020 की अवधि में दु​निया में सबसे अधिक ट्विटर खातों की जानकारी भारत सरकार द्वारा मांगी गई। कंपनी के अनुसार दुनिया भर से आए कुल अनुरोधों में सबसे बड़ा करीब 25 प्रतिशत हिस्सा भारत से प्राप्त जुआ था। ट्विटर ने एक ब्लॉग में कहा कि सामग्री हटाने के मामले में सबसे आगे जापान रहा। सामग्री हटाने की कानूनी मांगों की संख्या के मामले में भारत दूसरे स्थान पर है। 

ट्विटर हर साल में दो बार अपनी रिपोर्ट पेश करता है। जिसमें विभिन्न उल्लंघनों और नियमों के उल्लंघन के लिए कार्रवाई के लिए खातों के सरकारी और कानूनी अनुरोधों, निष्कासन अनुरोधों और डेटा के बारे में विवरण साझा किया जाता है। अपने नवीनतम ब्लॉग में, ट्विटर ने कहा कि उसने जुलाई-दिसंबर 2020 की अवधि में सरकारों द्वारा वैश्विक सूचना अनुरोधों के 30 प्रतिशत के जवाब में कुछ या सभी जानकारियां प्रदान की गईं। 

"भारत सरकारी सूचना अनुरोधों का सबसे बड़ा स्रोत है, जो वैश्विक मात्रा का 25 प्रतिशत और निर्दिष्ट वैश्विक खातों का 15 प्रतिशत है। सूचना अनुरोधों की दूसरी सबसे बड़ी मात्रा अमेरिका से प्राप्त हुई। यहां दुनिया भर के 22 प्रतिशत अनुरोध प्राप्त हुए है।“ ट्विटर ने कहा कि इमरजेंसी अनुरोधों की सबसे अधिक संख्या अमेरिका से प्राप्त हुई। यहां 34 प्रतिशत अनुरोध प्राप्त हुए। उसके बाद जापान (17 प्रतिशत), और दक्षिण कोरिया (16 प्रतिशत) अनुरोध प्राप्त हुए।

रिपोर्टिंग अवधि (जुलाई-दिसंबर 2020) के दौरान, ट्विटर को 1,31,933 खातों को निर्दिष्ट करने वाली सामग्री को हटाने के लिए 38,524 कानूनी मांगें मिलीं। इन वैश्विक कानूनी मांगों के 29 प्रतिशत के जवाब में मंच ने कुछ या सभी रिपोर्ट की गई सामग्री को रोक दिया या अन्यथा हटा दिया।

कानूनी मांगों की कुल वैश्विक मात्रा का लगभग 94 प्रतिशत केवल पांच देशों से प्राप्त हुई, इसमें जापान, भारत, रूस, तुर्की और दक्षिण कोरिया शामिल हैं। ट्विटर ने कहा कि जुलाई-दिसंबर 2020 से वैश्विक स्तर पर सभी ट्वीट्स के लिए उल्लंघन करने वाले ट्वीट्स पर इंप्रेशन की संख्या 0.1 प्रतिशत से भी कम थी। इस दौरान, ट्विटर ने अपने नियमों का उल्लंघन करने वाले 3.8 मिलियन ट्वीट्स को हटा दिया। इनमें से लगभग 77 प्रतिशत को हटाने से पहले 100 से कम इंप्रेशन प्राप्त हुए, 17 प्रतिशत को 100 और 1,000 के बीच इंप्रेशन प्राप्त हुए और 6 प्रतिशत हटाए गए ट्वीट्स में 1,000 से अधिक इंप्रेशन थे।

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X