Thursday, May 23, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. ऑनलाइन खुदरा कारोबार को हमसे है खतरा, हमें उनसे नहीं: किशोर बियानी

ऑनलाइन खुदरा कारोबार को हमसे है खतरा, हमें उनसे नहीं: किशोर बियानी

बियानी ने कहा कि ऑनलाइन खुदरा कारोबार की बाजार हिस्सेदारी कम है पर इसकी लागत अधिक है

Manoj Kumar @kumarman145
Published on: November 27, 2017 20:17 IST
ऑनलाइन खुदरा कारोबार को हमसे है खतरा, हमें उनसे नहीं: किशोर बियानी- India TV Paisa
ऑनलाइन खुदरा कारोबार को हमसे है खतरा, हमें उनसे नहीं: किशोर बियानी

नई दिल्ली। फ्यूचर ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी किशोर बियानी ने आज कहा कि देश में उभर रहे ऑनलाइन खुदरा कारोबार को बिग बाजार और ईजीडे जैसे ऑफलाइन खुदरा आउटलेटों से खतरा है। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन खुदरा कारोबार की बाजार हिस्सेदारी कम है पर इसकी लागत अधिक है। बियानी ने कहा, ‘‘ऑनलाइन खुदरा कारोबार को हम लोगों से खतरा है, और उन्हें भी यह मालूम हो चुका है कि उनसे हमें कोई खतरा नहीं है क्योंकि उनके पास एक प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी भी नहीं है और कारोबार की लागत अधिक है।’’

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ सालों में खुदरा उपभोक्ताओं का छोटा हिस्सा ही फ्लिपकार्ट और अमेजन से रोजाना इस्तेमाल की चीजें खरीद रहा है। उन्होंने भारतीयों की ऑनलाइन खरीदारी का बुखार उतर जाने की बात कहते हुए कहा, ‘‘अगर आप वैश्विक स्तर पर देखेंगे, अलीबाबा सिर्फ ऑफलाइन खुदरा कारोबार ही खरीद रहा है। अमेजन भी यही कर रहा है। मतलब है कि समय बदल चुका है।’’

बियानी ने आगे कहा कि फैशन और खाद्य श्रेणी में लगातार मांग आ रही है। फैशन श्रेणी में तेज वृद्धि हो रही है और एफबीबी, सेंट्रल और ब्रांड फैक्टरी जैसे चेन काफी अच्छी स्थिति में हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या ऑनलाइन खुदरा कारोबार ऑफलाइन कारोबार पर हावी हो रहा है, उन्होंने कहा कि दोनों एक-दूसरे से मिल रहे हैं और अभी के 10 साल बाद दोनों पूरी तरह मिल जाएंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘चीन के बारे में माना जाता है कि वह सबसे अधिक डिजिटल है पर वहां भी ऑफलाइन खुदरा कारोबार की हिस्सेदारी 82 प्रतिशत है। अमेरिका में यह 89 प्रतिशत है। इसी तरह भारत में भी ऑफलाइन खुदरा कारोबार का भविष्य बेहतर है क्योंकि ऑनलाइन खुदरा कारोबार की हिस्सेदारी काफी कम है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारी कंपनी का नाम फ्यूचर ग्रुप है क्योंकि हम भविष्य को देखकर काफी पहले योजना बना लेते हैं।’’

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement