1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. PM in US: पीएम मोदी आज करेंगे इन कंपनियों के CEO से मुलाकात, भारत को 'दुनिया की फैक्ट्री' बनाने पर होगा फोकस

PM Modi in US: पीएम मोदी आज करेंगे इन कंपनियों के CEO से मुलाकात, भारत को 'दुनिया की फैक्ट्री' बनाने पर होगा फोकस

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत के तहत विदेशी निवेशकों की हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए दिग्गज कारोबारियों से बात करेंगे।

Devendra Parashar Devendra Parashar @DParashar17
Updated on: September 23, 2021 9:56 IST
PM Modi in US: पीएम मोदी आज...- India TV Paisa
Photo:NARENDRA MODI TWITTER

PM Modi in US: पीएम मोदी आज करेंगे इन कंपनियों के CEO से मुलाकात 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समय अमेरिका के बेहद महत्वपूर्ण दौरे पर हैं। यहां वे यूएन समिट को संबोधित करने के साथ ही क्वाड जैसे भूराजनीतिक संगठन की बैठक में शामिल होंगे। अपने दौरे के दौरान पीएम मोदी का फोकस अमेरिकी कंपनियों की ओर से भारत में निवेश बढ़ाने पर भी होगा। अपनी तीन दिवसीय विजिट के पहले ही दिन पीएम मोदी बैठकों में जुट जाएंगे। गुरुवार को पीएम मोदी दुनिया की दिग्गज कंपनियों के प्रमुखों से बात करेंगे। इसके साथ ही वे अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से भी मुलाकात करेंगे। 

माना जा रहा है प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत के तहत विदेशी निवेशकों की हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए दिग्गज कारोबारियों से बात करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाशिंगटन में क्‍वालकॉम, एडोब, फर्स्‍ट सोलर, जनरल एटोमिक्‍स और ब्‍लैकस्‍टोन जैसी दिग्‍गज कंपनियों के मुख्‍य कार्यकारियों के साथ भी मुलाकात करेंगे। ये सभी कंपनियां टेक्‍नोलॉजी, रिन्‍यूएबल एनर्जी, सॉफ्टवेयर, ड्रोन और इनवेस्‍टमेाट फंड्स का मिश्रण हैं। ये वहीं क्षेत्र हैं जिन पर मोदी सरकार का विशेष फोकस भी है।

इन CEO से होगी मुलाकात

प्रधानमंत्री के तय कार्यक्रम की बात करें तो गुुरुवार को सुबह से ही पीएम मोदी की बैठकों का दौर शुरू हो जाएगा। भारतीय समय के अनुसार शाम 7.15 बजे पीएम मोदी क्वालकॉम के CEO क्रिस्टियानो एमॉन से मुलाकात करेंगे। इसके ठीक बाद वे 7.35 बजे वे एडोबी के चेयरमैन से मुलाकात करेंगे। पीएम मोदी के कार्यक्रम के अनुसार वे 7.55 बजे फर्स्ट सोलार के CEO मार्क विडमर से मुलाकात करेंगे। उनकी अगली मुलाकात 8.15 बजे General Atomics के सीईओ से होगी। तय कार्यक्रम के अनुसार आखिरी मुलाकात 8.35 बजे ब्लैकस्टोन सीईओ से होगी। 

क्वॉलकाम: ये वायरलेस चिप और सिस्टम सर्किट बनाने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कम्पनियों में से एक है। कम्पनी के सीईओ क्रिस्टियानो आमोन क्वालकॉम इनकॉर्पोरेटेड के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं और कंपनी के निदेशक मंडल में भी कार्य करते हैं। आमोन ने 30 जून, 2021 को सीईओ की भूमिका संभाली। ये विश्व की 5जी तकनीक की बड़ी कंपनी है।

 
अडोबी: कंपनी के सीईओ भारतीय मूल के शांतनु नारायण हैं। यह दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनियों में से एक है। शांतनु 1998 में अडोबी में इसके इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकी समूह के उपाध्यक्ष और महाप्रबंधक के रूप में शामिल हुए, वह 2005 में अध्यक्ष और सीओओ बने, 2007 में सीईओ और 2017 में बोर्ड के अध्यक्ष बने। सीईओ के रूप में, शांतनु ने अपने रचनात्मक के लिए क्लाउड-आधारित मॉडल का नेतृत्व करके, डिजिटल दस्तावेज़ों के लिए वैश्विक मानक स्थापित किए और विस्फोटक डिजिटल अनुभव का निर्माण और नेतृत्व करके कंपनी को एक उद्योग इनोवेशन में बदल दिया। शांतनु यूएस-इंडिया स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप फोरम के वाइस चेयरमैन हैं और फाइजर के बोर्ड में शामिल हैं, उन्होंने पहले डेल के निदेशक के रूप में कार्य किया और अमेरिकी राष्ट्रपति के प्रबंधन सलाहकार बोर्ड के सदस्य रहे हैं।

सोलर फ़र्स्ट : प्रधानमंत्री वॉशिंगटन में सोलर फ़र्स्ट के सीईओ से भी मुलाक़ात करने वाले हैं। मार्क आर. विडमार, फर्स्ट सोलर के निदेशक, मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। उन्होंने अप्रैल 2011 में मुख्य वित्तीय अधिकारी के रूप में फर्स्ट सोलर ज्वाइन किया और फरवरी 2012 से जून 2015 तक फर्स्ट सोलर के मुख्य लेखा अधिकारी के रूप में भी काम किया, सोलर पावर के क्षेत्र में दुनिया की सबसे शक्तिशाली और सबसे विश्वसनीय कम्पनियों में से एक हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार सौर ऊर्जा पर फ़ोकस बनाए हुए हैं, उनका मानना है कि सौर ऊर्जा के ज़रिए क्लीन एनर्जी बनाना सबसे आसान है और भारत जैसे देशों के लिए ये वरदान साबित हो सकती है।

जनरल एटॉमिक्स : दुनिया के सामने नई तकनीक हर पल नए रूप में सामने आ रही है, ड्रोन तकनीक ने नयी अवसर और चुनौतियां खड़ी की हैं, प्रधानमंत्री ड्रोन और मानवरहित विमान बनाने वाली कम्पनी, जनरल एटॉमिक्स के सीईओ नील ब्लू से मुलाक़ात करने वाले हैं। नील ब्लू,  जनरल एटॉमिक्स (जीए), सैन डिएगो के अध्यक्ष और सीईओ हैं, GA एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बड़ी कम्पनी है जिसमें 15,000 से अधिक कर्मचारी शामिल हैं, कम्पनी के समूह में जीए एयरोनॉटिकल शामिल है जो मानव रहित विमान, इलेक्ट्रो-ऑप्टिकल, रडार, सिग्नल इंटेलिजेंस, लेजर संचार और स्वचालित एयरबोर्न आईएसआर सिस्टम का उत्पादन करता है GA का EMS डिवीजन नौसेना के नए एयरक्राफ्ट कैरियर इलेक्ट्रोमैग्नेटिक लॉन्च और रिकवरी सिस्टम, सैटेलाइट सर्विलांस, लेजर, हाइपरवेलोसिटी प्रोजेक्टाइल और पावर कन्वर्जन सिस्टम का उत्पादन करता है।

जीए-सीसीआरआई उच्च निष्ठा, जागरूकता और भविष्य कहने वाला, विश्लेषण देने के लिए ज्ञान विश्लेषण के लिए मल्टी डोमेन डेटा प्रदान करता है, कम्पनी ऊर्जा अनुसंधान में अगली पीढ़ी के परमाणु विखंडन और इसके अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त है, ये कम्पनी फ्रांस में 35 देशों के आईटीईआर संलयन परियोजना को सुपरकंडक्टिंग चुंबक के निर्माण में भी शामिल है।

ब्लैकस्टोन ग्रुप : स्टीफन एलन श्वार्ज़मैन, अमेरिकी व्यवसायी, निवेशक हैं,  वे ब्लैकस्टोन ग्रुप के अध्यक्ष और सीईओ हैं, जो एक वैश्विक निजी इक्विटी फर्म है जिसे उन्होंने 1985 में लेहमैन ब्रदर्स के पूर्व अध्यक्ष और सीईओ और अमेरिकी वाणिज्य सचिव पीटर जी पीटरसन के साथ स्थापित किया था, श्वार्ज़मैन ने कुछ समय के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के रणनीतिक और नीति मंच के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया। ब्लैकस्टोन कम्पनी पेंशन फंडों, बड़े संस्थानों और व्यक्तियों की ओर से पूंजी निवेश करने वाला एक प्रमुख वैश्विक निवेश व्यवसाय है।

टिम कुक से होगी मुलाकात?

सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री एप्पल के सीईओ टिम कुक से भी मुलाकात कर सकते हैं। लेकिन अभी उनकी बैठक का कार्यक्रम तय नहीं है। कुक अभी बीजिंग में हैं। कुक ने 13 मई को चीन की ऐप आधारित टैक्सी सेवा कंपनी दीदी चुक्सिंग में एक अरब डॉलर निवेश की घोषणा की थी। वे इस सप्ताह के आखिर में देश लौट सकते हैं। यहां प्रधानमंत्री मोदी से उनकी मुलाकात हो सकती है। यहां भारत का जोर अमेरिकी कंपनी को चीन से मैन्युफैक्चरिंग को हटाकर भारत में बढ़ाने के लिए मनाने पर होगा। इससे पहले करीब 5 साल पहले टिम कुक भारतीय दौरे पर आए थे। तब उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। 

Write a comment
Click Mania
bigg boss 15