1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. राजेश एक्सपोर्ट का मुनाफा 50 प्रतिशत घटा, स्पाइसजेट को जून तिमाही में हुआ 600.5 करोड़ रुपए का घाटा

राजेश एक्सपोर्ट का मुनाफा 50 प्रतिशत घटा, स्पाइसजेट को जून तिमाही में हुआ 600.5 करोड़ रुपए का घाटा

समीक्षाधीन तिमाही में उसकी कुल परिचालन आय 46,054.55 करोड़ रुपए रही, जो पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही के 40,622.52 करोड़ रुपए के मुकाबले 13.37 प्रतिशत अधिक है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: September 16, 2020 15:07 IST
Rajesh Exports Q1 net falls 50 pc to Rs 152.13 crore- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Rajesh Exports Q1 net falls 50 pc to Rs 152.13 crore

नई दिल्ली। सोने का शोधन करने वाली कंपनी राजेश एक्सपोर्ट ने बताया कि 30 जून 2020 को समाप्त तिमाही के दौरान उसका शुद्ध लाभ 49.61 प्रतिशत गिरकर 152.13 करोड़ रुपए हो गया। कंपनी ने बताया कि एक साल पहले इसी अवधि में उसका शुद्ध लाभ 301.94 करोड़ रुपए था। कंपनी ने बताया कि समीक्षाधीन तिमाही में उसकी कुल परिचालन आय 46,054.55 करोड़ रुपए रही, जो पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही के 40,622.52 करोड़ रुपए के मुकाबले 13.37 प्रतिशत अधिक है।

विमानन कंपनी स्पाइसजेट ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के कारण हवाई यात्राओं पर रोक के चलते 30 जून को समाप्त चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में उसे 600.5 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा हुआ। कंपनी ने बताया कि बीते वित्त वर्ष की इसी अवधि में उसने 262.8 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हासिल किया था। स्पाइसजेट ने एक बयान में कहा कि उसकी परिचालन आय 2020-21 की पहली तिमाही में 521 करोड़ रुपए रही, जो एक साल पहले के 3,002.8 करोड़ रुपए के मुकाबले काफी कम है।

कंपनी ने बताया कि जून तिमाही के दौरान उसका परिचालन व्यय 1,311.6 करोड़ रुपए रहा, जो एक साल पहले की समान अवधि में 2,886.7 करोड़ रुपए रहा था। स्पाइसजेट के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने कहा कि पहली तिमाही के ज्यादातर हिस्से में उड़ानों का संचालन निलंबित था और शुरू में उड़ानों को आंशिक रूप से बहाल किए जाने और कमजोर मांग से महामारी के चलते पैदा हुई समस्याएं फिर उभर गईं।

डीजीसीए ने विस्तारा, इंडिगो का विशेष सुरक्षा ऑडिट शुरू किया

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इंडिगो और विस्तारा का विशेष सुरक्षा ऑडिट शुरू किया है। हाल में एअर इंडिया एक्सप्रेस का विमान दुर्घटनाग्रस्त होने के मद्देनजर यह डीजीसीए की घरेलू विमानन कंपनियों के सुरक्षा प्रणाली के आकलन और समीक्षा कार्रवाई का हिस्सा है।

अधिकारी ने कहा कि दो विमानन कंपनियों की विशेष सुरक्षा ऑडिट मंगलवार से शुरू की गयी। यह उनके सभी बेस पर की जाएगी। डीजीसीए इससे पहले निजी क्षेत्र की स्पाइसजेट और सार्वजनिक क्षेत्र की एअर इंडिया का इसी तरह का सुरक्षा ऑडिट कर चुका है। विस्तार के प्रवक्ता ने इसकी पुष्टि की है।

Write a comment
X