1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Apple की हैसियत भारत जैसे 194 देशों की GDP से भी ज्यादा, बनी पहली 3 ट्रिलियन डॉलर वाली कंपनी

Apple की हैसियत भारत जैसे 194 देशों की GDP से भी ज्यादा, बनी पहली 3 ट्रिलियन डॉलर मार्केट वैल्यू वाली कंपनी

कंपनी के शेयर सोमवार को 182.01 डॉलर पर ट्रेड कर रहे थेकंपनी के ताजा रिवेन्यू आंकड़ों के अनुयसार एप्पल की कमाई में 50% से ज्यादा हिस्सेदारी आईफोन की है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: January 05, 2022 12:06 IST
Apple की हैसियत भारत...- India TV Paisa
Photo:AP

Apple की हैसियत भारत जैसे 194 देशों की GDP से भी ज्यादा, बनी पहली 3 ट्रिलियन डॉलर मार्केट वैल्यू वाली कंपनी 

Highlights

  • Apple की हैसियत भारत की कुल जीडीपी से भी अधिक हो गई है
  • एप्पल की मार्केट वैल्यू 3 लाख करोड़ डॉलर (करीब 225 लाख करोड़ रु.) के पार
  • कंपनी के शेयर सोमवार को 182.01 डॉलर पर ट्रेड कर रहे थे

iPhone बनाने वाली कंपनी Apple की हैसियत भारत की कुल जीडीपी से भी अधिक हो गई है। ताजा आंकड़ों के अनुसार एप्पल की मार्केट वैल्यू 3 लाख करोड़ डॉलर (करीब 225 लाख करोड़ रु.) के पार हो गई है। एपल के शेयरों ने 3% उछाल के साथ कंपनी ने 3 ट्रिलियन डॉलर का मुकाम हासिल किया। 

एप्पल दुनिया की पहली publicly traded company है जो इस मुकाम तक पहुंची है। कंपनी के शेयर सोमवार को 182.01 डॉलर पर ट्रेड कर रहे थे। कंपनी के ताजा रिवेन्यू आंकड़ों के अनुयसार एप्पल की कमाई में 50% से ज्यादा हिस्सेदारी आईफोन की है। 

जानिए कितनी बड़ी है कंपनी 

एप्पल कितनी विशाल कंपनी है, इसे आप इस तरह समझ सकते हैं करीब 45 साल पहले कैलिफोर्निया में गैराज से शुरू हुई एप्पल की मार्केट वैल्यू दुनिया के 194 देशों की जीडीपी से अधिक है। दुनिया के 5 ताकतवर देशों अमेरिका, चीन, जापान, जर्मनी, ब्रिटेन के बाद एप्पल का नंबर आता है। इससे भी यदि आप न समझे तो दूसरे आंकड़े पर गौर करते हैं। एप्पल की मार्केट वैल्यू वॉलमार्ट, डिज़्नी, नेटफ्लिक्स, नाइकी, एक्सॉन मोबिल, कोका-कोला, कॉमकास्ट, मॉर्गन स्टेनली, मैकडॉनल्ड्स, एटीएंडटी, गोल्डमैन सैक्स, बोइंग, आईबीएम और फोर्ड जैसे दुनिया की बड़ी कंपनियों को यदि मिला देंगे तो भी एपल (Apple) की मार्केट वैल्यू कहीं ज्यादा है।

सिर्फ 16 महीने में 2 से 3 ट्रिलियन डॉलर वैल्यू 

एपल ने अगस्त 2018 में एक ट्रिलियन डॉलर का जादुई आंकड़ा छुआ था। उसे यह उपलब्धि हासिल करने में 42 साल का लंबा सफर तय करना पड़ा। दो साल बाद कंपनी की वैल्यू 2 ट्रिलियन डॉलर से ज्यादा हो गई। जबकि अगले ट्रिलियन यानी तीन ट्रिलियन मार्केट वैल्यू होने में कंपनी को सिर्फ 16 महीने और 15 दिन लगे। इंडेक्स में वैल्यूएशन पर नज़र रखने वाले एक विश्लेषक हॉवर्ड सिल्वरब्लैट के अनुसार, ऐप्पल अब एसएंडपी 500 के कुल मूल्य का लगभग 7% है। 

Write a comment
erussia-ukraine-news