Sunday, April 14, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. Banking Scams: बैंकों में हुए 60 हजार करोड़ से अधिक के घोटाले, फर्जीवाड़े में बैंक के 2729 कर्मचारी शामिल

Banking Scams: बैंकों में हुए 60 हजार करोड़ से अधिक के घोटाले, फर्जीवाड़े में बैंक के 2729 कर्मचारी शामिल

देश के विभिन्न बैंक और वित्तीय संस्थाओं में पिछले वित्त वर्ष में 77 हजार से अधिक घोटाले हुए। इन Scam में 60 हजार करोड़ से अधिक की राशि की हेराफेरी की गई।

Alok Kumar Edited by: Alok Kumar @alocksone
Published on: June 06, 2022 15:42 IST
Bank Scam- India TV Paisa
Photo:FILE

Bank Scam

Banking Scams: देश के विभिन्न बैंक और वित्तीय संस्थाओं में पिछले वित्त वर्ष में 77 हजार से अधिक घोटाले हुए। इन  Scam में 60 हजार करोड़ से अधिक की राशि की हेराफेरी की गई। अगर हर दिन का औसत निकाल ले तो प्रतिदिन 212 घोटाले हुए और 165 करोड़ रुपए की अनियमितता हुई। इन घोटाले में बैंक के 2729 कर्मचारी शामिल संलिप्त पाए गएं। यह जानकारी सूचना का अधिकार कानून के तहत नागपुर में सामने आई है। 

 आरटीआई कार्यकर्ता ने मांगी थी जानकारी 

आरटीआई कार्यकर्ता अभय कोलारकर ने सूचना का अधिकार कानून के तहत रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से इस संबंध में जानकारी मांगी थी ,1 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 तक देश भर में बैंकों में कुल कितने घोटाले हुए, इसमें कितने राशि का गवन हुआ था। इसके जवाब में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से मिली जानकारी के मुताबिक 1 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 की अवधि में विभिन्न बैंक और वित्तीय संस्थाओ में 77,654 घोटाले हुएं। इसमें 60 हजार 530 को करोड़ की राशि का हेराफेरी किया गया। 

कर्मचारी पर कार्रवाई की जानकारी नहीं 

मिली जानकारी के अनुसार इन तमाम घोटालों में 2729 बैंक कर्मचारियों की संलिप्तता पाई गई, लेकिन उन पर किसी तरह की कार्रवाई, रिकवरी हुई इस बारे में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने जानकारी मुहैया नहीं कराई है। अभय कोलाकर ने बताया कि सरकारी बैंकों के साथ, निजी बैंक और सहकारी संस्थाओं का भी घाटाले के मामले सामने आए हैं। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement