Wednesday, July 24, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. मंदी में यूरोप की सबसे मजबूत इकोनॉमी, जर्मनी की अर्थव्यवस्था में चौथी तिमाही में गिरावट

मंदी में यूरोप की सबसे मजबूत इकोनॉमी, जर्मनी की अर्थव्यवस्था में चौथी तिमाही में गिरावट

सांख्यिकी कार्यालय ने कहा कि जर्मनी का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) उपभोक्ता खर्च में कमी के कारण वर्ष 2021 की पहली तिमाही के बाद पहली बार बड़े पैमाने पर सिमट गया।

Written By: Sachin Chaturvedi @sachinbakul
Published on: January 30, 2023 19:32 IST
German economy shrank- India TV Paisa
Photo:AP German economy shrank

जर्मनी की अर्थव्यवस्था में 2022 की चौथी तिमाही में 0.2 प्रतिशत की गिरावट आई है। जर्मनी के संघीय सांख्यिकी कार्यालय ने सोमवार को तिमाही आंकड़े जारी करते हुए कहा कि यूरोप की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का प्रदर्शन अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में उम्मीद से कहीं खराब रहा है। सांख्यिकी कार्यालय ने कहा कि जर्मनी का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) उपभोक्ता खर्च में कमी के कारण वर्ष 2021 की पहली तिमाही के बाद पहली बार बड़े पैमाने पर सिमट गया।

तीसरी तिमाही में जर्मनी की वृद्धि दर 0.5 प्रतिशत और दूसरी तिमाही में 0.1 प्रतिशत रही थी। सांख्यिकी कार्यालय ने जनवरी के मध्य में दिसंबर के पूरे आर्थिक आंकड़े आने से पहले कहा था कि अर्थव्यवस्था चौथी तिमाही में स्थिर हो गई है। सोमवार को चौथी तिमाही के आंकड़े आने के बाद जर्मनी को पूरे साल के लिए अपनी वृद्धि दर के अनुमान को संशोधित कर 1.8 प्रतिशत करना पड़ा है। पहले अर्थव्यवस्था के 1.9 प्रतिशत की दर से बढ़ने का अनुमान लगाया गया था।

नीदरलैंड की कंपनी फिलिप्स ने की छंटनी

नीदरलैंड की उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स और चिकित्सा उपकरण कंपनी फिलिप्स ने अगले दो साल के दौरान वैश्विक स्तर पर 6,000 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाने की घोषणा की है। कंपनी को 2022 में 1.6 अरब यूरो का शुद्ध घाटा हुआ है जबकि 2021 में कंपनी ने 3.3 अरब यूरो का शुद्ध लाभ कमाया था। इससे पहले अक्टूबर में कंपनी ने अपने कर्मचारियों की संख्या में 4,000 की कमी करने की घोषणा की थी। यह कटौती इसके अतिरिक्त है।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement