1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Logo Crisis : देश की 2 बड़ी एयरलाइंस के बीच एक जैसी ‘पहचान’ का झगड़ा, DGCA के पास पहुंची शिकायत

Logo Crisis : देश की 2 बड़ी एयरलाइंस के बीच एक जैसी ‘पहचान’ का झगड़ा, DGCA के पास पहुंची शिकायत

डायरेक्टर जनरल आफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) के सामने यह शिकायत जेट एयरवेज ने पेश की है। जेट एयरवेज ने स्पाइसजेट को उसके विमानों जैसी ‘पहचान’ को हटाने का निर्देश देने के लिए कहा है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: June 29, 2022 11:53 IST
Airlines- India TV Hindi News
Photo:FILE

Airlines

Highlights

  • जेट एयरवेज ने स्पाइसजेट को उसके विमानों जैसी ‘पहचान’ को हटाने का निर्देश देने के लिए कहा
  • जेट एयरवेज के विमान स्पाइसजेट जैसी कुछ घरेलू विमानन कंपनियों को पट्टे पर दिया गया था
  • विमानों पर Jet Airways के प्रतीक चिह्न के ऊपर भी Spicejet रंग दिया गया है

Logo Crisis :  किसी भी कंपनी के लिए उसकी पहचान यानि कि लोगो कितना महत्वपूर्ण होता है, इसकी एक झलक देश की दो प्रमुख एयरलाइंस के झगड़े में साफ दिखाई दे रहा है। हम बात कर रहे हैं देश की दो एयरलाइंस की जिसमें पहली है स्पाइसजेट और दूसरी है एक बार फिर उड़ान भरने को तैयार जेट ऐयरवेज की। दोनों ही कंपनियां एक जैसी पहचान के लिए झगड़ रही हैं, अब मामला डीजीसीए के पास पहुंचा है। 

डायरेक्टर जनरल आफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) के सामने यह शिकायत जेट एयरवेज ने पेश की है। जेट एयरवेज ने स्पाइसजेट को उसके विमानों जैसी ‘पहचान’ को हटाने का निर्देश देने के लिए कहा है। विमानन कंपनी का कहना है कि स्पाइसजेट के विमानों पर उसके विमानों जैसी पहचान है, जो जनता को गुमराह करने के साथ सुरक्षा के लिए भी खतरा है। 

क्या है मामला 

हर विमानन कंपनी की किसी न किसी विशेष रंग के संयोजन में अपनी खुद की एक पहचान होती है और उसके विमानों पर एक खास तरह का प्रतीक चिह्न भी होता है। इस अंग्रेजी में ‘लिवेरी’ कहा जाता है। जेट एयरवेज ने 21 जून को डीजीसीए को लिखे पत्र में कहा, ‘‘वर्ष 2019 में हवाई संचालन को रोकने के बाद हमने पट्टे पर लिए कई विमानों को वापस लौटा दिया था। इन्हें बाद में फिर स्पाइसजेट जैसे कुछ घरेलू विमानन कंपनियों को पट्टे पर दे दिया गया।’’ कंपनी ने कहा कि इनमें से कई विमान जेट एयरवेज के रंगों या पहचान के साथ हवाई संचालन जारी रखे हुए है। 

स्पाइस जेट के विमानों पर जेट का लोगो 

जेट एयरवेज ने कहा, ‘‘विमानों पर कंपनी के प्रतीक चिह्न के ऊपर भी रंग दिया गया है लेकिन उसके बावजूद अगर कोई ध्यान से देखे, तो चिह्न फिर भी दिखता है।’’ पत्र में कहा गया कि इनमें से कुछ विमान दुर्घटनाओं या घटनाओं में शामिल रहे हैं, और उनकी तस्वीरें मीडिया में व्यापक रूप से प्रसारित की गई हैं। 

ये है स्पाइसजेट का जवाब 

इस मामले पर स्पाइसजेट के प्रवक्ता ने एक बयान में बताया, ‘‘हमें डीजीसीए से कोई संदेश नहीं मिला है। पुराने विमानों को चरणबद्ध किया जा रहा है और कई विमानों को पहले ही बेड़े से हटा दिया गया है। उनकी जगह पर 737मैक्स द्वारा संचालन किया जा रहा है।’’ वहीं, जेट एयरवेज इस मामले में कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। 

Latest Business News

Write a comment