Tuesday, April 16, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. डूबते बायजू को मिला बड़ा सहारा, राइट्स इश्यू में पैसा लगाने के लिए बड़े निवेशक हुए तैयार

डूबते बायजू को मिला बड़ा सहारा, राइट्स इश्यू में पैसा लगाने के लिए बड़े निवेशक हुए तैयार

एक सूत्र ने बताया कि अभी तक बायजू को राइट्स इश्यू से करीब 30 करोड़ डॉलर की कुल प्रतिबद्धता कमिटमेंट मिली है। कुछ निवेशकों ने राइट्स इश्यू का आकार बढ़ाने का भी सुझाव दिया है, लेकिन कंपनी के लिए प्राथमिकता मौजूदा इश्यू को सफलतापूर्वक बंद करना है।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Published on: February 19, 2024 12:29 IST
बायजू- India TV Paisa
Photo:FILE बायजू

कर्ज में फंसी एडुटेक कंपनी बायूज के लिए अच्छी खबर है। कंपनी की ओर से जारी राइट्स इश्यू में बड़े निवेशक पैसा लगाने के लिए तैयार हो गए हैं। मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों के अनुसार, एडटेक प्रमुख थिंक एंड लर्न को राइट्स इश्यू के जरिए निवेशकों से 30 करोड़ डॉलर का कमिटमेंट मिला है।  सूत्रों ने बताया कि बायजू ब्रांड नाम के तहत संचालन करने वाली कंपनी थिंक एंड लर्न ने 22-25 करोड़ अमेरिकी डॉलर उद्यम मूल्यांकन पर 20 करोड़ अमेरिकी डॉलर जुटाने के लिए जनवरी में राइट्स इश्यू जारी किया था। यह फरवरी अंत में बंद होगा। 

एक सूत्र ने बताया कि अभी तक बायजू को राइट्स इश्यू से करीब 30 करोड़ डॉलर की कुल प्रतिबद्धता कमिटमेंट मिली है। कुछ निवेशकों ने राइट्स इश्यू का आकार बढ़ाने का भी सुझाव दिया है, लेकिन कंपनी के लिए प्राथमिकता मौजूदा इश्यू को सफलतापूर्वक बंद करना है।

निवेशकों से साथ रवीन्द्रन की अनबन

कंपनी के सीईओ बायजू रवीन्द्रन और निवेशकों के बीच सबकुछ ठीक नहीं है। हाल ही में कंपनी में बड़े निवेश करने वाले निवेशकों ने सीईओ को हटाने की मांग की थी। हालांकि, बाद में कंपनी की ओर से कहा गया कि शेयरधारक समझौते के तहत निवेशकों के पास सीईओ या प्रबंधन में बदलाव पर कोई मतदान अधिकार नहीं है। बायजू के कम से कम छह निवेशकों ने कंपनी के प्रमुख से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करने और कंपनी पर संस्थापकों का नियंत्रण खत्म करने के लिए एक असाधारण आम बैठक (ईजीएम) बुलाई थी। 

बायजू का घटा तेजी से बढ़ा 

बायजू ब्रांड के तहत परिचालन करने शिक्षा प्रौद्योगिकी कंपनी थिंक एंड लर्न का घाटा वित्त वर्ष 2021-22 में बढ़कर 6,679 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी ने बताया कि उसकी दो अनुषंगी इकाइयों व्हाइट हैट जूनियर और ओस्मो में हुए नुकसान के चलते उसका परिचालन घाटा बढ़ा। थिंक एंड लर्न ने शेयर बाजार को बताया कि उसका परिचालन घाटा वित्त वर्ष 2020-21 में 4,143 करोड़ रुपये था। वित्त वर्ष 2020-21 में उसकी आय दोगुनी से अधिक बढ़कर 5,298.43 करोड़ रुपये हो गई, जो 2020-21 में 2,428.39 करोड़ रुपये थी। बायजू ने कहा कि कमतर प्रदर्शन करने वाली इकाइयों में मुख्य रूप से व्हाइट हैट जूनियर और ओस्मो रहे। इनसे लगभग 3,800 करोड़ रुपये का घाटा हुआ, जो कुल घाटे का 45 प्रतिशत है। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement