Monday, May 20, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. वित्त वर्ष 2024-25 में घरेलू खनन तथा निर्माण उपकरण उद्योग में हो सकती है गिरावट, जानिए क्या है कारण

वित्त वर्ष 2024-25 में घरेलू खनन तथा निर्माण उपकरण उद्योग में हो सकती है गिरावट, जानिए क्या है कारण

रेटिंग एजेंसी इक्रा ने गुरुवार को कहा कि इक्रा को वित्त वर्ष 2024-25 में सालाना आधार पर 12-15 प्रतिशत (यानी 1.14-1.18 लाख यूनिट) की गिरावट आने की आशंका है।

Edited By: Abhinav Shalya
Published on: April 18, 2024 14:11 IST
 घरेलू खनन तथा निर्माण उपकरण उद्योग में आ सकती है गिरावट- India TV Paisa
Photo:फाइल घरेलू खनन तथा निर्माण उपकरण उद्योग में आ सकती है गिरावट

 घरेलू खनन तथा निर्माण उपकरण उद्योग पर चालू वित्त वर्ष में दबाव देखने को मिल सकता है। रेटिंग एजेंसी इक्रा ने गुरुवार को जानकारी दी। रेटिंग एजेंसी के मुताबिक लोकसभा चुनाव और निर्माण गतिविधियों पर मानसून के प्रभाव के बीच नई परियोजनाओं में मंदी से चालू वित्त वर्ष 2024-25 में घरेलू खनन तथा निर्माण उपकरण (एमसीई) उद्योग में मंदी आ सकती है। 

कितनी हो सकती है गिरावट

रेटिंग एजेंसी इक्रा ने गुरुवार को कहा कि इक्रा को वित्त वर्ष 2024-25 में सालाना आधार पर 12-15 प्रतिशत (यानी 1.14-1.18 लाख यूनिट) की गिरावट आने की आशंका है। वित्त वर्ष 2022-23 में 26 प्रतिशत और वित्त वर्ष 2023-24 में 24 प्रतिशत की लगातार दो वर्षों की मजबूत वृद्धि दर्ज की गई थी। 

परियोजनाओं में कमी आना बनेगी वजह

इक्रा की क्षेत्र प्रमुख (कॉर्पोरेट रेटिंग) ऋतु गोस्वामी ने कहा कि लोकसभा चुनाव और दूसरी तिमाही में निर्माण गतिविधियों पर मानसून संबंधित प्रभाव के बीच लगातार दो तिमाहियों में परियोजना गतिविधि में व्यवधान से वित्त वर्ष 2024-25 की पहली छमाही में बिक्री में कमी आने की आशंका है।

बयान के अनुसार, ‘‘ अप्रैल-मई 2024 में संसदीय चुनाव में (चार जून 2024 को परिणामों की घोषणा तक) आदर्श आचार संहिता लागू रहेगी, जिससे वित्त वर्ष 2023-24 की चौथी तिमाही तथा वित्त वर्ष 2024-25 की पहली तिमाही में नई परियोजनाओं में मंदी आएगी।’’ इसमें कहा गया, ‘‘ इसके अलावा वित्त वर्ष 2024-25 में इक्रा के सर्वेक्षण में शामिल कंपनियों के कुल राजस्व में नौ से 12 प्रतिशत और ‘ऑपरेटिंग मार्जिन’ में 100-150 आधार अंकों की कमी आने का अनुमान है।’

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement